उत्तर प्रदेश में बना टेनीक्वाॅयट खेल एसोसिएशन, जल्द होगी चैंपियनशिप

Smart News Team, Last updated: Thu, 29th Jul 2021, 12:04 PM IST
  • टेनीक्वाॅयट एसोसिएशन का गठन केडी सिंह बाबू स्टेडियम में बैठक कर किया गया. जिसमें प्रदेश के मंत्री जय कुमार सिंह जैकी को एसोसिएशन का अध्यक्ष चुना गया.जल्द ही खिलाड़ियों का चयन कर चैंपियनशिप आयोजित कराई जाएगी.इस चैंपियनशिप से चुने गए खिलाड़ी राष्ट्रीय चैंपियनशिप में भाग लेंगे.
उत्तर प्रदेश में बना टेनीक्वाॅयट खेल एसोसिएशन

लखनऊ:उत्तर प्रदेश में अब टेनीक्वाॅयट (रिंग टेनिस) के खिलाड़ी तैयार करने की योजना बनाई गई है. बुधवार को प्रदेश के राजधानी लखनऊ में उत्तर प्रदेश टेनीक्वाॅयट एसोसिएशन का गठन किया गया. जो जल्द ही राज्य के अलग-अलग हिस्सों में कैंप लगाकर इसके लिए खिलाड़ी तैयार करेगा. जिसके बाद इसकी चैंपियनशिप कराई जाएगी. इस चैंपियनशिप से चुने गए खिलाड़ी राष्ट्रीय चैंपियनशिप में भाग लेंगे.

टेनीक्वाॅयट एसोसिएशन का गठन केडी सिंह बाबू स्टेडियम में बैठक कर किया गया. जिसमें प्रदेश के मंत्री जय कुमार सिंह जैकी को एसोसिएशन का अध्यक्ष चुना गया. वहीं डॉ. सैयद रफत महासचिव और डॉ. सुधा बाजपायी कोषाध्यक्ष सर्वसम्मति से चुनी गई. एसोसिएशन में चुनाव के समय उत्तर प्रदेश ओलंपिक महासंघ के महासचिव डॉ आनन्देश्वर पांडेय भी मौजूद थे.

एसोसिएशन के अध्यक्ष जय कुमार सिंह जैकी ने बताया कि जल्द ही कोरोना प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए सेमिनार और चैंपियनशिप की तारीख की घोषणा की जाएगी. वहीं टेनीक्वाॅयट फेडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव तेजराज सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि अभी 28 राज्यों में हमारी इकाई है. टेनीक्वाॅयट की देश में राष्ट्रीय फेडरेशन का गठन 1960 में हुआ और 1979 में इसको खेल मंत्रालय से मान्यता प्राप्त हुई.

मालूम हो कि टेनीक्वाॅयट (रिंग टेनिस) खेल में करीब छह इंच व्यास की रबर की मोटी रिंग होती है. इसमें भी बैडमिंटन की तरह ही कोर्ट होता है. नेट के दोनो तरफ एक-एक खिलाड़ी होते हैं. एक खिलाड़ी सर्विस करता है तो दूसरी तरफ खड़ा खिलाड़ी उसे रिसीव कर तुरंत रिटर्न करता है. अगर वह ऐसा नहीं कर पाता है तो उसके विपक्षी खिलाड़ी को अंक मिल जाता है. इसकी एकल, युगल और मिक्स युगल स्पर्धाएं होती है. इसमें 21 अंको में 3 सेट में मुकाबला होता है. जो खिलाड़ी 2 सेट जीतता है. उसे विजेता घोषित किया जाता है.

BJP मीटिंग पर अखिलेश का तंज- कितनी भी बैठक कर लें, जनता हटाकर दम लेगी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें