सरकार की इस योजना से 752 रुपये जमाकर पाएं हर महीने 10 हजार, जानें प्रोसेस

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 4th Dec 2021, 7:07 PM IST
  • केंद्र की मोदी सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई जा रही है. इन योजनाओं में आप हर महीने कुछ पैसे जमाकर इसका लाभ उठा सकते हैं. जिसमें पति पत्नी हर महीने 752 रुपये जमाकर 60 साल बाद हर महीने 10 हजार रुपये की पेंशन का लाभ उठा सकते हैं.
पति-पत्नी 752 रुपये जमाकर पा सकते हैं हर महीने 10 हजार रुपये, करना होगा ये काम

लखनऊ. केंद्र की मोदी सरकार आमजन के लिए कई पेंशन योजनाओं संचालित कर रही है. जिसमें सबसे लोकप्रिय पेंशन योजना है अटल पेंशन योजना. जिसमें हितग्राही कुछ पैसे जमाकर 60 साल के बाद पेंशन योजना का लाभ उठा सकते हैं. इस योजना में मामूली निवेश पर बेहतर रिटर्न मिलता है ताकि बुढ़ापे में किसी तरह की दिक्कत न हो.

ऐसे कर सकते हैं आवेदन

अटल पेंशन योजना के लिए आप अपने बैंक में जाकर आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए आप ऑनलाइन भी रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है. आप विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://enps.nsdl.com/eNPS/NationalPensionSystem.html पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. इस योजना के आपका आधार आपके बैंक के केवाईसी से जुड़ सकता है. साथ ही आप आधार लिंक के माध्यम से ऑनलाइन वेरिफाई कर सकते हैं.

ट्रिपल तलाक की तरह मथुरा-काशी के लिए भी BJP बनाए कानूनः तोगड़िया

इन निवेशों में मिलेगा बेहतर रिटर्न

इस स्कीम के तहत 18 साल से अधिक उम्र का कोई भी आवेदन कर सकता है. इसके लिए 18 साल का व्यक्ति प्रतिमाह 42 रुपये जमा करता है तो 60 साल की उम्र में हर महीने 1 हजार रुपये पेंशन मिलेगी. वहीं, 210 रुपये जमा करने पर प्रति महीने 5 हजार रुपये पेंशन मिलेगी. यदि पति और पत्नी हर महीने 752 रुपये निवेश करती है तो 10 हजार रुपये प्रति महीने पेंशन मिलेगी.

वहीं, 40 की उम्र का कोई व्यक्ति निवेश करना चाहता है तो उसे 1 हजार रुपये प्रति महीने पेंशन के लिए प्रति महीने 291 रुपये जबकि 5 हजार रुपये प्रति महीने पेंशन के लिए 1454 रुपये हर महीने जमा कराने होंगे.

जल्द अमेठी में बननी शुरू होंगी AK-203 राइफल, बढ़ेगी सेना की ताकत, मोदी सरकार ने दी मंजूरी

पत्नी के मरने पर पति और दोनों के न रहने पर नॉमिनी को मिलेगी रकम

इस योजना में निवेश करने वाले किसी व्यक्ति की मौत हो जाती है तो पेंशन राशि की गांरटी होती है. ये पेंशन पति की मौत के बाद पत्नी और पत्नी के मौत के बाद पति को दी जाती है और दोनों के न रहने पर पूरी राशी नॉमिनी को दी जाती है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें