तीन से ज्यादा बार एथलीट डोपिंग में पकड़े गए तो यूपी एसोसिएशन पर होगी कार्रवाई

Smart News Team, Last updated: 02/12/2020 02:50 PM IST
  • एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इण्डिया ने कहा कि तीन से ज्यादा बार एथलीट डोपिंग में पाए गए तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. साथ ही राज्य एसोसिएशन पर भी कार्रवाई होगी. इसमें एसोसिएशन की मान्यता कुछ दिनों के लिए रद्द कर दी जाएगी. 
तीन से ज्यादा बार एथलीट डोपिंग में पाए गए तो उनके खिलाफ एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इण्डिया कार्रवाई करेगा.

लखनऊ. तीन से ज्यादा बार एथलीट डोपिंग में पाए गए तो उनके खिलाफ एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इण्डिया कार्रवाई करेगा. इसके अलावा राज्य एसोसिएशन पर भी कार्रवाई होगी. कार्रवाई के तहत उस राज्य के एसोसिएशन की मान्यता कुछ दिनों के लिए रद्द कर दी जाएगी. फेडरेशन की बैठक में यह फैसला लिया गया है. इसके बाद राज्यों की एसोसिएशन ने अपनी-अपनी जिला इकाइयों से प्रतिबंधित दवाओं के सेवन पर सख्ती बरतने और निगरानी का निर्देश जारी कर दिया है. 

यूपी एथलेटिक्स एसोसिएशन के सचिव पीके श्रीवास्तव ने बताया कि डोपिंग को रोकने के लिए जिला स्तर पर सख्ती होनी चाहिए,  लेकिन जमीनी स्तर पर यह संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि नेशनल एंटी डोपिंग एसोसिएसन (नाडा) की टीम को राज्य प्रतियोगिताओं के कार्यक्रम की जिम्मेदारी कई बार दिया गया है लेकिन वह डोपिंग के लिए सैंपल नहीं लेकर आएं. 

KGMU के दीक्षांत समारोह में शामिल हो सकते हैं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

पीके श्रीवास्तव ने कहा कि राज्य एसोसिएशन की तरफ से सभी जिला इकाइयों को निर्देश दिया गया हैं कि वे डोपिंग के मामले में सख्ती बरतें. अगर किसी भी एथलीट पर शक होता है तो उसकी जांच करें. जांच में डोपिंग पाया गया तो उसे खेल से बाहर कर दें. 

पीजीआई के कोविड अस्पताल के सभी कोरोना वार्ड आईसीयू में तब्दील

नाडा की हाल ही में आई रिपोर्ट के मुताबिक, पूरे देश में 37 खिलाड़ी डोपिंग के मामले में प्रतिबंधित किए गए हैं. ये आंकड़े जुलाई से सितबंर महीने तक के हैं. इनमें 10 एथलीट, 07 वेटलिफ्टर, 06 पावरलिफ्टर, 04 कबड्डी, 03-03 जूडो एवं कुश्ती और क्रिकेट, वॉलीबाल एवं फुटबाल के एक-एक खिलाड़ी हैं. दो खिलाड़ी यूपी के हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें