फर्जी मार्कशीट मामले में BJP विधायक खब्बू तिवारी को पांच साल की सजा, चुनाव लड़ने पर संकट

Nawab Ali, Last updated: Tue, 19th Oct 2021, 10:09 AM IST
  • अयोध्या की गोसाईगंज से भाजपा विधायक इंद्र प्रताप उर्फ खब्बू तिवारी को फर्जी मार्कशीट मामले में अदालत से बड़ा झटका लगा है. विधायक खब्बू तिवारी को विशेष अदालत ने पांच साल जेल और 8 हजार रूपये जुर्माने की सजा सुनाई है. 
बीजेपी विधायक खब्बू तिवारी को पांच साल की सजा. फाइल फोटो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के गोसाईगंज से भाजपा विधायक इंद्र प्रताप उर्फ खब्बू तिवारी को अदालत ने कॉलेज में दाखिला के लिए फर्जी मार्कशीट के इस्तेमाल संबंधी 28 साल पुराने मामले में पांच साल जेल के लिए जेल भेज दिया है. विधायक खब्बू तिवारी के खिलाफ साल 1992 में अयोध्या के साकेत डिग्री कॉलेज के तत्कालीन प्राचार्य यदुवंश राम त्रिपाठी ने राम जन्मभूमि थाना में मामला दर्ज कराया था. 28 साल मामला चलने के बाद विशेष न्यायाधीश पूजा सिंह ने तिवारी को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया है. 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है. अयोध्या की गोसाईगंज से भाजपा विधायक खब्बू तिवारी को फर्जी मार्कशीट मामले में अदालत ने पांच साल के लिए जेल भेज दिया है. साथ ही अदालत ने विधायक खब्बू तिवारी पर 8 हजार रूपये जुर्माना भी लगाया है. साल 1990 में विधायक ने फर्जी मार्कशीट जमा कर स्नातक के दूसरे वर्ष में अनुत्तीर्ण हुए अगली कक्षा में प्रवेश लिया था. मामले में मुकदमा दर्ज कराने वाले तत्कालीन प्राचार्य यदुवंश राम त्रिपाठी की भी मौत हो गई थी. विधायक के खिलाफ फर्जी मार्कशीट के मामले में 13 साल बाद चार्जशीट दायर की गई थी. 

हवाई चप्पल वालों को जहाज से सफर कराने का था वादा, अब सड़क पर भी मुश्किल: प्रियंका गांधी

आरोप हैं कि इस दौरान कई महत्वपूर्ण दस्तावेज रिकॉर्ड से गायब कर दिए गए थे. उस समय साकेत कॉलेज के डीन रहे महेंद्र कुमार अग्रवाल और कई अन्य लोगों ने विधायक के खिलाफ गवाही दी है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश जिसमें दो साल से अधिक सजा होने पर और सजा पूरी होने के साल तक व्यक्ति चुनाव नहीं लड़ सकता फैसले के कारण खब्बू तिवारी के चुनाव लड़ने पर तलवार लटक गई है. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें