अयोध्या राम मंदिर निर्माण कार्य 2-3 दिनों में होगा शुरू : नृपेन्द्र मिश्र

Smart News Team, Last updated: 08/09/2020 07:50 PM IST
  • अयोध्या में राम मंदिर बनने का काम 2-3 दिनों में शुरू होगा. मंदिर का ढांचा जिन 1200 पिलरों पर खड़ा होगा उसका काम 4 से 5 महीने में पूरा हो जाएगा. निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेन्द्र मिश्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ महात्मा गांधी के रामराज्य का सपना पूरा कर रहे हैं.
राम मंदिर निर्माय कार्य 2-3 दिनों में होगा शुरू, नृपेन्द्र मिश्रा बोले- पूरा होगा गांधी का सपना

लखनऊ. अयोध्या में जल्द ही राम मंदिर बनने का शुभ कार्य शुरू हो जाएगा. मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया कि 1200 पिलरों में से पहले का काम 2-3 दिनों में शुरू होना है. इन्हीं 1200 खंभों पर ही मंदिर का ढांचा टिका होगा और इन सभी का काम 4 से 5 महीने में पूरा हो जाएगा. इसका डिजाइन आर्किटेक्ट फर्म रामपुरा ने बनाया है.आईआईटी चेन्नई ने अयोध्या की मिट्टी की गुणवत्ता का जांच का काम किया है.

सरकार यह कदम इसलिए उठा रही है ताकि अयोध्या का विकास विश्वस्तरीय हो. अयोधया पुराना शहर है इस वजह से उसके विकास को लेकर कुछ चुनौतियां हैं पर उत्तर प्रदेश सरकार इसे ठीक करने के लिए 3 महीने में यहां के विकास के लिए प्रोजेक्ट बनाएंगी जिसमें कि पूरा खाका होगा.

CM योगी और डिप्टी सीएम को जातिवादी कहने वाले अपर निजी सचिव अमर सिंह बर्खास्त

निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेन्द्र मिश्रा ने कहा कि मंदिर के बनने में सबसे ज्यादा मुश्किल राजस्थान से पत्थरों को लाकर उनकी नक्काशी करना फिर उसे खुदाई कर स्थापित करना है. उन्होंने यह भी कहा कि अयोध्या हम सभी की राष्ट्रीयता और एकता का प्रतीक है. दुनिया भर में श्री राम भगवान के भक्त है. 

लखनऊ में नजरबंद की गईं मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुमैया

मंदिर बनकर भक्तों की उम्मीदों के मुताबिक ही समय से पहले तैयार हो जाएगा. अयोध्या ने ही की देशों को भारत से जोड़ रखा है. श्री राम मंदिर के अलावा एक म्यूजियम होगा जहां मंदिर आंदोलन का इतिहास के बारे में और खुदाई के दौरान मिली चीजों को रखा जाएगा. अध्यक्ष नृपेन्द्र मिश्रा राम राज्य के बारे में बोलते हुए कहते हैं कि इसका सपना महात्मा गांधी ने देखा था जिसे कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार पूरा कर रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें