अयोध्या में महिला बैंक अधिकारी ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- IPS समेत ये लोग हैं कारण

Shubham Bajpai, Last updated: Sun, 31st Oct 2021, 12:30 AM IST
  • अयोध्या में एक महिला बैंक कर्मी ने फांसी के फंदे में लटककर आत्महत्या कर ली. महिला के शव के साथ बरामद सुसाइड नोट में कथित तौर पर एक आईपीएस अधिकारी समेत 3 लोगों को जिम्मेदार ठहराया है. वहीं, इस मामले को लेकर सपा प्रमुख ने कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है.
अयोध्या में महिला बैंक अधिकारी ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- IPS समेत ये लोग हैं कारण (फोटो सभार लाइव हिंदुस्तान) 

लखनऊ. यूपी के अयोध्या में पंजाब नेशनल बैंक की मुख्य शाखा ख्वासपुरा में तैनात महिला बैंक कर्मी श्रद्धा गुप्ता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. जिसकी जानकारी तब हुई, जब मृतका की मकान मालिक आई तो उन्होंने श्रद्धा का शव लटका पाया. जिसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

वहीं, पुलिस को मृतका के कमरे से एक सुसाइट नोट भी मिला है. अंग्रेजी के लिखे सुसाइड नोट में कथित तौर पर मृतका की मौत का जिम्मेदार आईपीएस आशीष तिवारी समेत पुलिस विभाग में तैनात अनिल रावत और विवेक गुप्ता को बताया गया है.

6 साल से अयोध्या में तैनात थी श्रद्धा

जानकारी अनुसार, लखनऊ की रहने वाली श्रद्धा ने बतौर क्लर्क 2015 में बैंक की नौकरी ज्वाइन की थी. जिसके बाद प्रमोशने के बाद वो असिस्टेंट मैनेजर के पद पर अयोध्या में तैनाती हुई. वो अयोध्या में अकेली किराए के मकान में रहती थीं.

अखिलेश से मिलीं बीजेपी की पूर्व सांसद सवित्री बाई फुले, थाम सकती है SP का दामन

दो दिन से नहीं उठा रही थी घरवालों का फोन

मृतका के परिजनों ने बताया कि वो दो दिन से उनका फोन नहीं उठा रही थी. शनिवार सुबह भी फोन किया था, लेकिन फोन नहीं उठा है. जिसके बाद पुलिस ने घटना की जानकारी दी. वहीं, मृतका के परिजनों ने आईपीएस को मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया. श्रद्धा ने बीटेक किया था वो एक जिंदा दिल लड़की थी. जो आत्महत्या नहीं कर सकती है. इस मामले की जांच होनी चाहिए.

लखनऊ के 10 बड़े निजी अस्पताल सील, इस मनमानी के कारण प्रशासन ने लटकाया ताला

सपा प्रमुख ने कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल, कहा मामले की हो उच्चस्तरीय मांग

अयोध्या में महिला बैंक कर्मी की मौत पर कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए समाजवादी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि इस मामले की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच हो. सपा प्रमुख ने घटना को लेकर ट्वीट किया कि अयोध्या में पंजाब नेशनल बैंक की महिला कर्मचारी की आत्महत्या मामले में मिले सुसाइड नोट में जिस प्रकार पुलिस के लोगों पर सीधा आरोप है वो उप्र में बदहाल कानून-व्यवस्था का कड़वा सच है. इसमें सीधे एक आईपीएस अफसर तक का नाम आना बेहद गंभीर मुद्दा है.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद की जाएगी आगे की कार्रवाई

इस मामले में अयोध्या एसएसपी शैलेश पांडेय ने कहा कि कमरे का दरवाजा तोड़कर महिला बैंक कर्मी का शव फंदे से उतारकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं, महिला के कमरे से एक सुसाइड नोट मिला है, उसकी जांच कराई जाएगी. उसमें कई नाम का भी जिक्र किया जाए तो उसकी जांच की जा रही है. वहीं, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें