यूपी में बेसिक शिक्षा विभाग कर रहा NCERT पाठ्यक्रम को शामिल करने की तैयारी

Smart News Team, Last updated: Sun, 27th Dec 2020, 9:14 PM IST
उत्तर प्रदेश में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम के मुताबिक पढ़ाई कराने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग तैयारी कर रहा है. इसके लिए 31 मार्च तक शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जाएगा.
नए साल में बेसिक शिक्षा विभाग एनसीईआरटी पाठ्यक्रम को शामिल करने की तैयारी कर रहा है.

लखनऊ. नए साल में बेसिक शिक्षा विभाग एनसीईआरटी पाठ्यक्रम को शामिल करने की तैयारियां कर रहा है. इसके लिए हर ब्लॉक से 4 अध्यापकों को ट्रेनिंग दी जाएगी. इसके बाद 25-25 के बेड पर सभी शिक्षकों को ऑफलाइन प्रशिक्षण दिया जाएगा. हालांकि इतनी बड़ी संख्या में 31 मार्च तक शिक्षकों को प्रशिक्षित करना विभाग के लिए एक चुनौती है.

इसके अलावा विभाग को प्री प्राइमरी कक्षाओं के लिए 1.60 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी ट्रेनिंग देनी होगी. इस सत्र से कक्षाएं एक में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम के अनुसार पढ़ाई शुरू होगी. इसके लिए संदर्भदाताओं का प्रशिक्षण ऑनलाइन होगा. ब्लॉक से 4 शिक्षकों को चयनित किया जा रहा है. इनमें उन शिक्षकों का चयन होगा जिनका अकादमिक गतिविधियों में विशेष योगदान है.

UP के सरकार प्राप्त कॉलेजों में प्रोफेसर और असिस्टेंट प्रोफेसरों की भर्ती जल्द

इसके लिए शिक्षा संकुल और केआरपी में चयनित शिक्षकों तो ही सेलेक्ट किया जा सकता है. इनकी ट्रेनिंग 10 जनवरी तक पूरी होगी. इसके बाद सभी शिक्षकों की ट्रेनिंग ब्लॉक स्तर पर करवाई जाएगी. इसका मॉड्यूल भी बनाया जा चुका है. सरकारी प्राइमरी स्कूल में एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम चरणबद्ध ढंग से लागू किया जा रहा है. गौरतलब है कि 2024- 25 तक कक्षा 1 से 8 में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम लागू कर दिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें