लखनऊ के 10 बड़े निजी अस्पताल सील, इस मनमानी के कारण प्रशासन ने लटकाया ताला

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 30th Oct 2021, 9:41 PM IST
  • लखनऊ में दिवाली से पहले जिला प्रशासन ने निजी अस्पतालों पर मानक के खिलाफ चलने की शिकायत के बाद 10 अस्पतालों को शनिवार को सील कर दिया. इससे पहले शुक्रवार को 1 अस्पताल को सील किया गया. इन अस्पतालों के खिलाफ जांच के बाद जिलाधिकारी ने कार्रवाई के आदेश दिए हैं.
दीवाली से पहले निजी अस्पतालों पर प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, 10 अस्पताल सील, ये है वजह

लखनऊ. राजधानी में मानकों के खिलाफ चल रहे निजी अस्पतालों पर शनिवार को जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए शहर के दस निजी अस्पतालों को सील कर दिया. इससे पहले शुक्रवार को भी स्वास्थ्य विभाग एक अस्पताल पर कार्रवाई कर चुका है. इन अस्पतालों को सील करने के लिए जिलाधिकारी ने आदेश दिए हैं जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने कार्रवाई की.

शहर में चल रहे 1 हजार निजी अस्पताल, 19 को बंद करने के आदेश

जिलाधिकारी के पास शहर में चल रहे निजी अस्पतालों को मानक के खिलाफ बताते हुए शिकायत आई. जिस पर कार्रवाई करते हुए जिलाधिकारी ने जांच के आदेश दिए. जांच के बाद 19 अस्पतालों को सील करने के आदेश दिए गए हैं, जिसमें स्वास्थ्य विभाग शनिवार तक 11 अस्पताल सील कर चुका है. इस दौरान अस्पताल में भर्ती मरीजों को विभाग ने सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया.

कमाल खान ने अमित शाह पर साधा निशाना, कहा- BJP धर्म के नाम पर भारतीयों को बेवकूफ बना रही

इन अस्पतालों पर की गई कार्रवाई

शनिवार को वेलकम अस्पताल, गैलेक्सी हॉस्पिटल, शालिनी अस्पताल, उजाला नर्सिंग होम, सिमना हॉस्पिटल, रमेश जन सेवारथ हॉस्पिटल, हिन्द हॉस्पिटल, साधना हॉस्पिटल, काकोरी हॉस्पिटल, न्यू सहारा हॉस्पिटल एंड मेटरनिटी सेंटर को सील किया गया है. इस अस्पतालों में एमबीबीएस या इससे बड़ी डिग्री वाले डॉक्टर नहीं थे. वहीं, कई अस्पतालों का पंजीकरण तक नहीं था.

इन वजह से हुई कार्रवाई

इन अस्पतालों पर जांच के दौरान एमबीबीएस या इससे बड़ी डिग्री वाले डॉक्टर नहीं थे. कई अस्पतालों में फार्मासिस्ट और टेक्नीशियन तक नहीं थे. वहीं, कई अस्पतालों में 8वीं पास तक इलाज करते पाए गए. अस्पताल में मामूली जांच के साथ आईसीयू तक नहीं था.

लखनऊ : डॉक्टर भर्ती में DRRMLIMS पर लगे आरक्षण अनदेखी के आरोप, CM से की शिकायत

जिलाधिकारी के आदेश के बाद चलाए अभियान के बाद हुई कार्रवाई

शहर में निजी अस्पतालों में मानक खिलाफ इलाज होने की शिकायत आने पर जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जिलाधिकारी के आदेश के बाद निजी अस्पतालों के खिलाफ अभियान चलाकर छापेमारी की थी. जिसमें शहर के कई अस्पतालों में कमियां पाई गई थी. जिसको लेकर डीएम के निर्देश पर सीएमओ ने 29 निजी अस्पतालों को नोटिस जारी किया था. जिसमें 18 अस्पतालों के जवाब संतुष्टि वाले न होने पर उनके खिलाफ डीएम ने कार्रवाई के आदेश जारी कर दिए थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें