UP विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका, जितिन प्रसाद भाजपा में शामिल

Smart News Team, Last updated: Wed, 9th Jun 2021, 1:26 PM IST
  • उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. बंगाल चुनाव में राज्य प्रभारी रहे जितिन प्रसाद ने कांग्रेस का साथ छोड़ दिया है और भाजपा में शामिल हो गए हैं. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने उन्हें पार्टी में शामिल कराया.
जितिन प्रसाद को भाजपा की सदस्यता केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने दिलाई.

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद अगले साल की शुरुआत में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आस्था जताते हुए भाजपा में शामिल हो गए हैं. जितिन के पिता और कद्दावर कांग्रेस नेता जितेंद्र प्रसाद ने साल 2000 में सोनिया गांधी के खिलाफ कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ा था और बुरी तरह हार गए थे. भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली मुख्यालय में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने जितिन प्रसाद को बीजेपी की सदस्यता दी. कभी यूपी में कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष रहीं रीता बहुगुणा जोशी को अपने पाले में लाने के बाद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को बीजेपी की तरफ से ये दूसरा बड़ा झटका है.

जितिन प्रसाद के पिता जितेंद्र प्रसाद ने साल 2000 में कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष पद का चुनाव सोनिया गांधी के खिलाफ लड़ा था. जितेंद्र प्रसाद को 7,542 वोटों में सिर्फ 94 वोट ही मिले थे. इसके बाद 2001 में जितिन प्रसाद ने इंडियन यूथ कांग्रेस से अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत की थी. 2004 में पहला चुनाव जीतकर वह यूपी शाहजहांपुर से सांसद बने थे. जितिन प्रसाद धौरहरा लोकसभा सीट से सांसद रह चुके हैं. यूपी सरकार में उनके पास मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री की जिम्मेदारी थी. 

CM योगी का बढ़ा फैसला, 23 लाख श्रमिकों को 1000 रुपये करेंगे ऑनलाइन ट्रांसफर

जितिन प्रसाद पश्चिम बंगाल चुनाव में राज्य के प्रभारी थे. बंगाल चुनाव में कांग्रेस को बुरी मात मिली थी, एक भी सीट हिस्से नहीं आई थी. बता दें कि पिछले साल ही जितिन प्रसाद ने अपनी अगुवाई में एक ब्राह्मण चेतना परिषद नाम से संगठन स्थापित किया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें