सात ज्योतिर्लिंगों के दर्शन कराएगी भारत दर्शन स्पेशल ट्रेन, IRCTC ने दी हरी झंडी

Komal Sultaniya, Last updated: Thu, 10th Feb 2022, 7:24 PM IST
  • कोरोना का संक्रमण कम होते ही रेलवे बोर्ड ने भारत दर्शन ट्रेन को चलाने की हरी झंडी दे दी है. आईआरसीटीसी सात ज्योतिर्लिंग का दर्शन कराने के लिए गोरखपुर से 21 मार्च से ट्रेन चलाएगा. बुधवार को पहले दिन 200 यात्रियों ने बुकिंग कराकर सीट आरक्षित करा ली है.
IRCTC: भारत दर्शन स्पेशल ट्रेन कराएगी सात ज्योतिर्लिंगों के दर्शन 

लखनऊ. कोरोना का संक्रमण कम होते ही रेलवे बोर्ड ने भारत दर्शन ट्रेन को चलाने की हरी झंडी दे दी है. इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (आईआरसीटीसी) सात ज्योतिर्लिंग का दर्शन कराने के लिए गोरखपुर से 21 मार्च से ट्रेन चलाएगा. बुधवार को पहले दिन 200 यात्रियों ने बुकिंग कराकर सीट आरक्षित करा ली है.

महाकालेश्वर, ओंकारेश्वर, भीमाशंकर, त्रयंबकेश्वर, घृष्णेश्वर, सोमनाथ और नागेश्वर ज्योतिर्लिंग का दर्शन कर सकेंगे. इसके अलावा द्वारिका में द्वारिकाधीश मंदिर का भी भ्रमण करेंगे. आईआरसीटीसी के मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक अजीत कुमार सिन्हा के मुताबिक, यात्रियों की मांग को देखते हुए सात ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा ट्रेन संचालित करने का निर्णय लिया गया है.

लखनऊ जंक्शन पर यात्रियों को मिला तोहफा, अब रेलवे स्टेशन पर मिली ठहरने की सुविधा

यह ट्रेन 21 मार्च को रवाना होकर 12 रात और 13 दिन की यात्रा पूरी कर 31 को मार्च को गोरखपुर वापस आ जाएगी. टूर पैकेज का किराया 10,395 रुपये प्रति व्यक्ति है. टूर पैकेज के तहत यात्रा के दौरान यात्रियों को नाश्ता, दोपहर और रात के समय शाकाहारी भोजन मिलेगा.धर्मशालाओं में ठहरने की व्यवस्था रहेगी. स्थानीय यात्राएं लोकल बसों से पूरी कराई जाएंगी.

भारतीय रेलवे की बड़ी सौगात, दिल्ली और वाराणसी के बीच चलाई जाएगी दिव्य काशी यात्रा

ट्रेन में गोरखपुर, देवरिया सदर, बेलथरा रोड, मऊ, वाराणसी, भदोही, जंघई, प्रयागराज संगम, प्रतापगढ, गौरीगंज, रायबरेली, लखनऊ, कानपुर, एवं वीरांगना लक्ष्मीबाई स्टेशन से बैठने की सुविधा उपलब्ध रहेगी. इच्छुक व्यक्ति आईआरसीटीसी की बेवसाइट www.irctctourism.com से ऑनलाइन बुकिंग करा सकते हैं.

इन नंबरों पर करें संपर्क

गोरखपुर- 8595924273, 8595924297

लखनऊ- 8287930915, 8287930908, 8287930909, 828793

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें