ओपी राजभर-ओवैसी के साथ नजर आए चंद्रशेखर आजाद, यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर हुई बात?

Ankul Kaushik, Last updated: Fri, 27th Aug 2021, 7:17 PM IST
  • लखनऊ के ताज होटल में एक हिंदू न्यूज चैनल के एक सम्मेलन में यूपी विधानसभा चुनाव 2022 की चर्चा को लेकर कई नेता आए.  वहीं सुभासपा के ओमप्रकाश राजभर, AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद भी आए. इन तीनों ने एक दूसरे के साथ मुलाकात की और यूपी के आगामी चुनाव को लेकर चर्चा भी की.
यूपी चुनाव से पहले राजभर-ओवैसी के साथ नजए आए चंद्रशेखर

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर प्रदेश के सभी दलों ने अपनी कमर कस ली है. इसी क्रम में यूपी की राजधानी लखनऊ के ताज होटल में एक हिंदी न्यूज चैनल का सम्मेलन हुआ. इस सम्मेलन में सुभासपा के ओमप्रकाश राजभर, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुसलमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और भीम आर्मी चीफ व आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद भी आए. ये तीनों नेता एक दूसरे से मिले और प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा भी की. इन तीनों की मुलाकात के बाद प्रदेश में राजनीति गर्म होने लग गई है. माना जा रहा है ओवेसी और राजभर ने दलित वोट को लुभाने के लिए चंद्रशेखर को अपने गुट में ले लिया है. हालांकि अभी किसी की तरफ से साफ नहीं हुआ है कि चंद्रशेखर ओवैसी और राजभर के साथ हैं या नहीं.

बता दें ओवैसी और राजभर एक साथ मिल कर प्रदेश में चुनाव लड़ने का पहले ही ऐलान कर चुके हैं. इनके साथ छोटे-मोटे दल भी हैं लेकिन अगर भीम आर्मी चीफ इनके साथ आते हैं तो बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए काफी परेशानी होगी. हालांकि अभी ओवैसी और राजभर के बीच सीटों को लेकर बात नहीं मन रही है क्योंकि वह 100 सीटों पर चुनाव लड़ने का मन बना रहे हैं.

आगरा में जहरीली शराब से 13 मौत पर प्रियंका गांधी का सवाल- शराब माफिया पर क्यों मेहरबान है योगी सरकार

लखनऊ के ताज होटल में हुए इस सम्मेलन में AIMIM प्रमुख ओवैसी ने कहा, अखिलेश यादव पहले M-M (मुसलमान-मुसलमान) की बात करते हैं, जब मुख्यमंत्री बन जाते हैं फिर सिर्फ Y-Y (यादव-यादव) की बात करते हैं. वहीं सुभासपा ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि AIMIM के प्रमुख ओवैसी ने मुझसे कहा है कि BJP को छोड़कर किसी पार्टी या किसी दल से समझौता करिए हम आपके साथ हैं. वहीं भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने कहा न सुनने वाली सरकार को धमाके की जरूरत होती है इसलिए मैं हल्ला करता हूं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें