नवाबों के शहर में गाड़ी के VIP नंबर के लिए लगी लाखों की बोली, टूटे सभी रिकॉर्ड

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Apr 2021, 4:16 PM IST
  • लखनऊ में शुक्रवार की शाम ट्रांसपोर्ट नगर आरटीओ ऑफिस में गाड़ियों के वीआईपी नंबर की नीलामी के दौरान यूपी 32 एमए 0001 नंबर के लिए एक लाख रुपये से शुरू हुई नीलामी बोली के अंतिम दिन छह लाख रुपये तक पहुंच गई.
VIP गाड़ी नंबर के लिए यूपी में लगी छह लाख की बोली, तोड़े सारे रिकॉर्ड (फाइल फ़ोटो)

लखनऊ: नवाबों के शहर लखनऊ में अब नवाब तो नहीं रहें लेकिन नवाबी शौक रखने वाले आज भी हैं. लखनऊ के ट्रांसपोर्ट नगर आरटीओ ऑफिस में शुक्रवार को शाम एक ऐसा नजारा देखने को मिला जो वहां मौजूद लोगों को जीवन भर याद रहेगा. शुक्रवार शाम ट्रांसपोर्ट नगर आरटीओ ऑफिस में गाडियों के वीआईपी नंबर की नीलामी के दौरान यूपी 32 एमए 0001 नंबर के लिए एक लाख रुपये से शुरू हुई नीलामी बोली के अंतिम दिन छह लाख रुपये तक पहुंच गई. 

ये नालामी तब रोचक हुई जब शुक्रवार की शाम छह बजने में एक मिनट बाकी था कि बोली में एक हजार रुपये बढ़ाकर छह लाख एक हजार रुपये में प्रवीन नाम के बोलीकर्ता ने एक नंबर अपने नाम कर लिया.

ऑनलाइन ठगी और साइबर अपराधों की शिकायत घर बैठे कैसे करें, जानिए पूरी प्रकिया

आवेदक प्रवीण के हाथ 6.01 लाख में लगा एक नंबर

ट्रांसपोर्टनगर आरटीओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक अभी तक एक नंबर की अधिकतम बोली चार लाख दस हजार रुपये लगी थी. 27 मार्च 2021 को जारी वीआईपी नंबरों की नई सीरीज की अंतिम बोली शुक्रवार को समाप्त हो गई. जिसमें प्रवीन नाम के आवेदक ने अधिकतम बोली छह लाख एक हजार रुपये लगाकर नंबर ले लिया. पर, बोलीकर्ता ने अभी गाड़ी नहीं खरीदी है. नंबर मिलने के 30 दिन के भीतर गाड़ी खरीदना होगा. वरना, धरोहर धनराशि जब्त कर ली जाएगी.

लखनऊ कोंग्रेस दफ्तर में बने क्वार्टर में कब्जे को लेकर भिड़े नेता और कर्मचारी

50 हजार 500 में बिका कई और नंबर

ऑनलाइन नीलामी बोली के अंतिम दिन छह विभिन्न नंबरों पर अधिकतम बोली लगाई गई. इनमें 9000 नंबर 50 हजार 500 में बिका. इसके अलावा 0707, 3232, 1818 व 2121 नंबरों पर बोली लगाकर लोगों ने नंबर अपने नाम कर लिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें