UP विधानसभा चुनाव के मैदान में JDU भी, भाजपा को साथ लेने का दिया न्योता

Smart News Team, Last updated: Mon, 9th Aug 2021, 8:08 PM IST
  • जेडीयू ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उतरने का फैसला लिया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साफ तौर पर कहा है की जेडीयू उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अकेले लड़ने के लिए तैयार है. यूपी में बीजेपी से गठबंधन नहीं होता है तो जेडीयू अकेले चुनाव लड़ेगी. 
जेडीयू ने यूपी 2022 विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

लखनऊ. जेडीयू ने उत्तर प्रदेश 2022 विधानसभ चुनाव लड़ने का फैसला किया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है की हमारी पार्टी उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने के लिए तैयार है. अगर बीजेपी से चुनाव में गठबंधन नहीं होता है तो पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी. जेडीयू ने मणिपुर में भी चुनाव लड़ने का फैसला लिया है. दोनों ही राज्यों में जेडीयू के चुनाव लड़ने के फैसले से बीजेपी की चिंता बढ़ना लाजमी है. नीतीश कुमार ने कहा है की चुनाव लड़ने को लेकर पार्टी नेता रणनीति बना रहे हैं. नीतीश कुमार से पहले जेडीयू के अध्यक्ष लल्लन सिंह भी चुनाव लड़ने की बात कह चुके हैं. 

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले ही एनडीए सहयोगी दलों ने आंख दिखाना शुरू कर दिया है. उत्तर प्रदेश में जेडीयू ने चुनाव लड़ने का फैसला  किया है. जाहिर है की जेडीयू के इस फैसले से भाजपा की चिंता बढ़ सकती है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है की यूपी में आगामी विधानसभा चुनावों में जेडीयू चुनाव लड़ेगी. और पार्टी चुनाव में जीत भी हासिल करेगी. अगर चुनाव में एनडीए से गठबंधन नहीं होता है तो पार्टी अकेले चुनाव लड़ने में समर्थ है. हालांकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है की चुनाव को लेकर पार्टी नेता भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से चर्चा कर रहे हैं. जेडीयू अध्यक्ष लल्लन सिंह पहले ही कह चुके हैं की मणिपुर और यूपी चुनाव लड़ने के पार्टी नेताओं से चर्चा की जा रही हैं. 

मास्क ना पहनने पर अजीब तर्क देना पड़ा भारी, वीडियो वायरल होते ही पागलखाने भेजा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जातीय जनगणना को लेकर फिर से अपनी बात राखी है. उन्होंने कहा अहि की देशभर में जातीय जनगणना होनी चहिये. इसके लिए 4 अगस्त ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेजा जा चुका है. लेकिन अभी तक पत्र का कोई भी जवाब नहीं आया है. उन्होंने कहा है की पीएम नरेंद्र मोदी से से मिलकर इस संबंध में बात की जाएगी. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें