BJP नेता ने केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को बताया लखीमपुर खीरी हिंसा का सूत्रधार

Ankul Kaushik, Last updated: Thu, 14th Oct 2021, 9:58 PM IST
  • बीजेपी नेता राम इकबाल सिंह ने आरोप लगया है कि लखीमपुर खीरी हिंसा का सूत्रधार केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा है. इसके साथ ही पूर्व विधायक ने लखीमपुर कांड के लिए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को जिम्मेदार ठहराते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है.
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा, फोटो क्रेडिट (ANI)

लखनऊ. बीजेपी नेता और पूर्व विधायक राम इकबाल सिंह ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को लखीमपुर कांड की साजिश का सूत्रधार बताया है. इसके साथ ही पूर्व विधायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है. लखीमपुर कांड के लिए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को जिम्मेदार ठहराते हुए बीजेपी नेता ने कहा इस घटना के बाद बीजेपी सहित पीएम मोदी पर भी सवाल उठ रहे हैं, इसलिए पीएम मोदी को अजय मिश्रा को तत्काल बर्खास्त कर देना चाहिए. वहीं उन्होंने कहा कि लखीमपुर हिंसा से कुछ दिन पहले जो धमकी भरा बयान केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने दिया था उस बयान ने आग में घी डालने का काम किया है.

इसके साथ ही बीजेप नेता राम इकबाल सिंह ने कहा कि गृह राज्य मंत्री के पुत्र ने गाड़ी से किसानों को रौद कर मार डाला लेकिन उन्होंने किसानों से मांफी नहीं मांगी. वह अपने बेटे को बचाने में लगे हुए हैं, इस घटना से पार्टी की किरकिरी हुई है. उन्होंने कहा कि लखीमपुर हिंसा में बीजेपी कार्यकर्ता भी मारे गए हैं इसलिए सरकार उनकी तरफ भी ध्यान दे. इस समय बीजेपी कार्यकर्ता लखीमपुर घटना के बाद सरकार के रवैये को लेकर काफी परेशान हैं. इसके साथ ही पूर्व विधायक BJP सदस्य राम इकबाल सिंह ने कहा सरकार को किसान बिल वापस लेना चाहिए. किसानों के खून से सरकार को नहाने की आदत बन्द करनी चाहिए.

Lakhimpur Kheri violence: तीन दिन पुलिस रिमांड पर केंद्रीय मंत्री का बेटा आशीष मिश्रा

बता दें कि 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी के तिकुनिया इलाके में हुई हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी. इस हिंसा का आरोप केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा पर लगा था. आशीष मिश्रा पर आरोप था कि इन्होंने अपनी गाड़ी से रौंद कर किसानों को कुचल दिया जिससे उनकी मौत हो गई. फिलहाल आशीष मिश्रा पुलिस की गिरफ्त में हैं और सीन रिक्रिएशन के बाद वापस जेल भेजा गया है

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें