UP पंचायत चुनाव में सभी पार्टियों ने झोंकी अपनी पूरी ताकत, जानें कैसी है उनकी तैयारी

Smart News Team, Last updated: Tue, 30th Mar 2021, 1:59 PM IST
  • यूपी पंचायत चुनाव 2021 में बीजेपी सपा बसपा आम आदमी पार्टी कांग्रेस और एआईएमआईएम ने ससभी तैयारियां पूरी कर ली है. जिनकी तैयारियों के बारे में आप निचे पढ़ सकते है.
UP पंचायत चुनाव में सभी पार्टियों ने झोंकी अपनी पूरी ताकत जानें कैसी है उनकी तैयारी

लखनऊ. यूपी में 15 अप्रैल से त्रि स्तरीय पंचायत चुनाव होने है. जिसको लेकर सभी पार्टियां तैयारी भी कर रही है. वही अधिकतर तो इसे विधानसभा चुनाव के लिटमस टेस्ट के रूप में रही है. वही कई पार्टियों ने साफ कर दिया है कि आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट पंचायत चुनाव के परिणाम को देखकर ही दिया जाएगा. वही इस बार के पंचायत चुनाव में बीजेपी, सपा, बसपा, कांग्रेस से लेकर आम आदमी की पार्टी भी चुनाव मैदान में उतर चुकी है. साथ ही असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम भी पंचायत चुनाव में अपना भाग्य आजमाने जा रही है. 

बीजेपी- इस बार के पंचायत चुनाव में सत्ताधारी बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती है. जिसको लेकर पहले ही सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है. वही बीजेपी पंचायत चुनाव के जरिए अभी तक प्रदेश में किए गए कार्य को लोगों तक पहुंचाने में लगी हुई है. वही इस बार उसने ऐलान कर दिया है कि वह पदाधिकारियों और उनके रिश्तेदारों को टिकट नहीं देगी. वहिं इस बार वह शिक्षित और युवा प्रत्याशियों को मैदान में उतारने जा रही है.

UP की बेटियों को CM योगी का होली गिफ्ट,इन हॉस्टल स्कूलों में 12वीं तक पढ़ाई फ्री

समाजवादी पार्टी- समाजवादी पार्टी  ने भी इस पंचायत चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. जिसकी शुरुआत उसने किसान आंदोलनों से की है. वही उसे कई हद तक उम्मीदें भी बढ़ी है. जिसके जरिए ही उम्मीदवार लोगों में अपनी पैठ बनाने में लगें हुए है. साथ ही सपा ने प्रत्याशियों को टिकट देने का कार्य जिला इकाई को सौंपी है.

अखिलेश की होली जश्न में नहीं शामिल हुए शिवपाल, सपा अध्यक्ष ने कसा तंज

कांग्रेस- वही यह पार्टी पंचायत चुनाव से अपनी खोई हुई जमीन पाने की कोशिश कर रही है. जिसके लिए कांग्रेस ने भी किसान आंदोलनों से लेकर अन्य सभाएं कर लोगों के बीच अपनी जगह बनाने में लगी हुई है. वही कांग्रेस का लक्ष्य है कि वह ज्यादा से ज्यादा जिला पंचायत सदस्य जीते. 

बसपा- बसपा ने तो पहले ही साफ कर दिया है कि आगामी विधानसभा चुनाव का टिकट पंचायत चुनाव के परिणाम के आधार पर दिया जाएगा. वही बसपा ने जिला पंचायत उम्मीदवारों को टिकट देने कार्य मुख्य जोन इंचार्ज को सौंप दिया है. वही इसके कार्यकर्ता स्थानीय स्तर पर जाकर लोगों से उम्मीदवारों के लिए वोट मांग रहे है. 

किसान घर बैठे टोल फ्री नंबर पर कॉल करके करा सकेंगे क्रेडिट कार्ड का रजिस्ट्रेशन

आम आदमी पार्टी- आप पहली बार यूपी में पंचायती चुनाव लड़ रही है. जिसके लिए उसने हर सम्भव तैयारी भी की है. इतना ही नहीं आम आदमी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव भी लड़ने जा रही है, जिसको लेकर वह अपनी तैयरियों को परखना भी चाहती है. जिसको लेकर पार्टी के नेता स्थानीय मुद्दों से लेकर प्रदेश स्तर के मुद्दे लोगों के सामने उठा रहे है. जिससे वह लोगों के बीच अपना एक स्थान बना सके.

केंद्रीय विद्यालय में एडमिशन की तारीख का ऐलान, जानें फुल डिटेल्स

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें