CBSE Exam Update: सीबीएसई 10वीं और 12वीं के खेल प्रतियोगिताओं से जुड़े छात्रों को देगा परीक्षा में छूट

Anurag Gupta1, Last updated: Wed, 10th Nov 2021, 4:54 PM IST
  • सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं के खेल प्रतियोगिताओं से जुड़े छात्रों को परीक्षा में छूट देने का फैसला किया है. सीबीएसई ने पहली बार परीक्षा को दो टर्म में कराने का फैसला किया है. यदि नेशनल या इंटरनेशनल खेल प्रतियोगिताओं परीक्षा के साथ पड़ रही है या फिर परीक्षा के दौरान कोरोना पॉजिटिव आते है तो छूट मिलेगी.
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (फाइल फोटो)

लखनऊ. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने पहले टर्म में 10वीं और 12वीं के उन छात्रों को परीक्षा में छूट देने का निर्णय लिया है. जिनकी परीक्षा तिथियों में नेशनल या इंटरनेशनल खेल प्रतियोगिताएं पड़ रही हैं या जिन्हें नेशनल अथवा इंटरनेशनल ओलंपियाड की परीक्षाएं देनी हैं. साथ ही ऐसे छात्रों को भी छूट दी जाएगी जिनकी कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आएगी.

बता दें ऐसा पहली बार हो रहा है जब सीबीएसई बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षा दो टर्म में करा रहा है. पहले टर्म की परीक्षा 16 नवंबर से शुरू होनी हैं और दूसरे टर्म की मार्च में प्रस्तावित हैं. बोर्ड ने स्कूलों में भेजे निर्देश में साफ स्पष्ट किया है फर्स्ट टर्म में किस छात्र को किस स्थिति में छूट दी जा सकती है. साथ ही ये भी स्पष्ट किया है कि इनके लिए फर्स्ट टर्म के बाद कोई विशेष परीक्षाओं का आयोजन नहीं किया जाएगा.

कानपुर: CM योगी ने मेट्रो के ट्रायल रन को दिखाई हरी झंडी, इस दिन से कर सकेंगे सफर

छूट के लिए दिखाना होगा प्रमाण पत्र:

छात्र किसी नेशनल या इंटरनेशनल स्पोर्ट्स जो स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (साईं) से मान्य है, उसमें भाग ले रहा है और खेलों की तिथियां परीक्षा तिथियों से टकरा रही है तो उसे साईं का प्रमाण दिखाकर पहले टर्म में छूट मिलेगी. इसी तरह यदि कोई नेशनल या इंटरनेशनल ओलंपियाड में भाग ले रहा है तो उसे उन तिथियों के लिए होमी भाभा सेंटर फॉर साइंस एजुकेशन का प्रमाण पत्र देना होगा. निर्देश में ये भी कहा गया है यदि किसी छात्र की परीक्षा के दौरान कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उसे भी छूट मिलेगी लेकिन कोरोना रिपोर्ट का प्रमाणपत्र और डॉक्टरी रिपोर्ट जमा करनी होगी.

छूट मिलती है तो दोबारा नहीं देनी होगी परीक्षा:

परीक्षा नियंत्रक डॉ. सान्याम भारद्वाज के अनुसार छात्रों को 25 नवंबर तक अपने स्कूल के माध्यम से अपने संबंधित रीजनल सेंटर को जानकारी देनी होगी. जिन छात्रों को फर्स्ट टर्म की परीक्षा में छूट मिलती है उनके थ्योरी के अंक सेकेंड टर्म की परीक्षा के आधार पर तय किये जाएंगे. इसके लिए दोबारा कोई परीक्षा नहीं देना होगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें