किसान आंदोलन: मायावती बोलीं- कानून वापस लेकर किसानों को गिफ्ट दे मोदी सरकार

Shubham Bajpai, Last updated: Sun, 7th Nov 2021, 3:34 PM IST
  • बसपा सुप्रीमो मायावती ने दिवाली से पहले पेट्रोल और डीजल के दाम कम करने के बाद अब किसानों को राहत देते हुए तीनों कृषि कानून केंद्र की मोदी सरकार से वापस लेने की मांग की. मायावती ने ट्वीट कर कहा कि यदि सरकार तीनों कृषि कानून वापस लेकर किसानों को दिवाली गिफ्ट दे तो ये बेहतर होगा.
कृषि कानून पर बोलीं मायावती, तीनों कानून वापस लेकर सरकार किसानों को दे दिवाली गिफ्ट

लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले सभी दल किसान आंदोलन को मुद्दा बनाकर किसान वोटर्स को साधने में जुटे हैं. जहां समाजवादी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव कई योजनाओं के सहारे उन्हें लुभाने में लगे हैं. वहीं, प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने केंद्र की मोदी सरकार से कानून वापस लेने की मांग की. मायावती ने ट्वीट कर केंद्र सरकार से तीनों कृषि कानून वापस लेने की मांग की.

 इस दौरान उन्होंने भाजपा के सबका साथ, सबका विकास नारे को लेकर भी भाजपा सरकार पर सवाल उठाएं.

CM योगी ने लिस्ट तैयार करने के दिए निर्देश, नवंबर के अंत तक बटेंगे स्मार्ट फोन और टैबलेट

भाजपा के नारे को जुमला न मानकर कैसे करें विश्वास

मायावती ने भाजपा के सबका साथ सबका विकास नारे को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा. मायावती ने पहले ट्वीट में कहा कि सबका साथ सबका विकास व सबका विश्वास आदि को लोग जुमला न मानकर इस पर कैसे विश्वास करें जब देश के किसान 3 कृषि कानूनों की वापसी को लेकर लंबे समय से तीव्र आंदोलित एवं आक्रोशित भी हैं. तो फिर आमजन को तो ये जुमला ही लगेगा वो इसपर कैसे विश्वास कर सकेगा.

आजम खान की भैंस के बाद कांग्रेस नेता की घोड़ी को तलाशेगी रामपुर पुलिस, जानें पूरा मामला

पेट्रोल डीजल की तरह कानून वापस लेकर दे राहत

मायावती ने केंद्र सरकार से कृषि कानून वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार ने तीन साल में पहली बार उत्पाद कर (एक्साइज ड्यूटी) थोड़ा घटाकर लोगों को इस बार दिवाली पर कुछ राहत का तोहफा दिया है. उसी प्रकार दिवाली के बाद ही सही यदि तीनों विवादित कृषि कानूनों को वापस लेकर केन्द्र सरकार देश के किसानों को भी दिवाली का तोहफा दे देती है तो यह बेहतर ही होगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें