माफिया डॉन मुख्तार अंसारी लखनऊ के MP-MLA कोर्ट में नहीं हुआ पेश, 29 सितंबर को होगी सुनवाई

Ankul Kaushik, Last updated: Sat, 11th Sep 2021, 12:01 PM IST
  • लखनऊ के एमपी एमएलए कोर्ट ने पूर्वांचल के माफिया डॉन मुख्तार अंसारी के अदालत में पेश न होने के कारण नाराजगी जताई है. इसके साथ ही एमपी- एमएलए कोर्ट ने अंसारी की व्यक्तिगत पेशी के लिए बांदा जेल के वरिष्ठ जेल अधीक्षक को 29 सितंबर को पेश करने का आदेश दिया है.
लखनऊ के MP-MLA कोर्ट में माफिया डॉन मुख्तार अंसारी नहीं हुआ पेश

लखनऊ. बांदा जेल में बंद पूर्वांचल के माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की पेशी न होने पर लखनऊ के लखनऊ के एमपी एमएलए कोर्ट ने नाराजगी जताई है. इसके साथ ही अदालत ने इसे अत्यंत आपत्तिजनक कहते हुए मुख्तार की पेशी के लिए मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव गृह, पुलिस महानिदेशक, पुलिस आयुक्त व जिलाधिकारी लखनऊ तथा अतिरिक्त महानिदेशक कारागार के साथ ही बांदा जेल के वरिष्ठ अधीक्षक को पत्र भेजने का आदेश दिया. एमपी-एमएलए कोर्ट में 3 अप्रैल 2000 को राजधानी लखनऊ के आलमबाग थाने में दर्ज लखनऊ जेल के तत्कालीन जेलर, डिप्टी जेलर पर हमले ,जेल में पथराव, धमकाने के मामले में मुख्तार अंसारी की पेशी होनी थी. हालांकि वह इस पेशी में नहीं आया और इसके लिए कोई आख्या भी नहीं भेजी गई है.

पिछले 20 साल से लंबित चल रहे इस मामले में लखनऊ के आलमबाग थाने में एक एफआईआर दर्ज कराई गई थी. जिसमें लखनऊ जेल के तत्कालीन जेलर, डिप्टी जेलर पर हमले ,जेल में पथराव करने के आरोप में बाहुबली मुख्तार अंसारी, युसूफ चिश्ती, आलम, कल्लू पंडित और लालजी यादव समेत कई लोगों को नामजद किया गया था.

BSP सुप्रीमो मायावती ने काटा बाहुबली मुख्तार अंसारी का टिकट, भीम राजभर लड़ेंगे चुनाव

इसके साथ ही कोर्ट ने कहा कि इस केस में अभियोजन की तरफ से भी कोई रुचि नहीं है और इस वजह से मामले की कार्यवाही आगे नहीं बढ़ पा रही है. अब इस मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट ने 29 सितंबर को मुख्तार अंसारी को कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया है. इससे पहले वीडियो कॉनफ्रेसिंग के जरिए हुए इस सुनवाई में मुख्तार के वकील रणधीर सिंह सुमन ने जेल में टीवी व अन्य सुविधाएं न दिए जाने पर आपत्ति जताई थी.

मुख्तार अंसारी के भाई का फ्लैट होगा सीज, गाजीपुर पुलिस कार्रवाई को पहुंची

हाल ही में बसपा सुप्रीमो मयावती ने बसपा विधायक मुख्तार अंसारी का मऊ विधानसभा से टिकट काट दिया है. इस विधानसभा से मायावती ने बसपा प्रदेश अध्यक्ष भीम राजभर को टिकट दिया है. इसके बाद असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM ने मुख्तार अंसारी के लिए दरवाजे खोल दिए हैं. AIMIM के यूपी अध्यक्ष शौकत अली ने कहा है कि अगर मुख्तार अंसारी हमारी पार्टी में शामिल होते हैं तो हम यूपी चुनाव 2022 के लिए उन्हें टिकट देंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें