BSP सुप्रीमो मायावती की अपील- दिल्ली, पंजाब, महाराष्ट्र, हरियाणा से पलायन न करें

Smart News Team, Last updated: 08/05/2021 10:34 AM IST
बसपा सुप्रीमो मायावती ने महाराष्ट्र हरियाणा पंजाब और दिल्ली से पलायन कर रहे लोगों से पलायन न करने की सलाह दी. उन्होंने इन राज्यों के सरकार पर आरोप लगाया कि ये सभी सरकार कोरोना के दूसरे लहर के दौरान लोगों के  जरूरतों को पूरा करने का विश्वास पैदा नहीं कर पाई है. इसलिए लोग वहां से पलायन कर रहे हैं.
बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती. (फाइल फोटो)

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने ट्वीट करते हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से हाथ जोड़कर कहा कि दिल्ली राज्य से लोग इस कोरोना की दूसरी लहर में दिल्ली छोड़ कर किसी दूसरे राज्य में पलायन ना करें. यही पलायन की स्थिति कोरोना के पहले लहर में भी हुआ था. बिल्कुल यही स्थिति देश के दूसरे राज्य महाराष्ट्र हरियाणा पंजाब जैसे जगहों पर भी पलायन देखने को मिल रहा है. मायावती ने कहा कि पंजाब के लुधियाना से भी लोग कोरोना के डर की वजह से  पलायन कर रहे है. जो अत्यंत दुखद है.

अगर दिल्ली हरियाणा पंजाब महाराष्ट्र की सरकारी वहां के लोगों में कोरोना के वजह से होने वाली समस्याओं को हल और जरूरतों को पूरा करती तो आज वहां के लोग उस राज्य को छोड़कर दूसरे राज्य में पलायन नहीं करते. इसके उलट वहां की राज्य सरकारें कोरोना के संक्रमण मौत आदि आंकड़ों को छिपाने में अलग-अलग तरह की कोशिश और नाटक कर रही है. और यह बात पूरे देश को पता है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने मांग की है कि पूरे देश में विशेषकर आदिवासी समाज दलित और गरीब वर्ग के सभी लोगों को मुफ्त में कोरोना का टीका लगना चाहिए. 

UP सरकार को HC के आदेश- सीधे खरीदें कोरोना वैक्सीन, 4 महीने में निपटाएं टीकाकरण

मायावती ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी केंद्र सहित देश के सभी राज्य सरकारों से एक बार फिर अपनी मांग दोहराई की सभी दलित गरीब और आदिवासी समाज को जरूरी आर्थिक मदद की जानी चाहिए. बसपा सुप्रीमो मायावती इससे पहले देश की सभी पार्टियों को एक साथ मिलकर केंद्र से मुफ्त में टीकाकरण व उनके इलाज का पूरा खर्च केंद्र सरकार की मांग की थी.

भयावह! एक महीने में जले 3500 कोविड शव, अंतिम संस्कार में लगी एक करोड़ की लकड़ी

BJP सरकार के कुप्रबंधन-भ्रष्टाचार से UP में स्वास्थ्य सेवा बर्बाद: अखिलेश यादव

लखनऊ में एंबुलेंस के रेट तय, कोरोना मरीज से नहीं वसूले जाएंगे मनमाने पैसे

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें