मायावती का सरकार से सवाल- लोकतांत्रिक भारत देश में क्या आंशिक लोकतंत्र व स्वतंत्रता है?

Smart News Team, Last updated: 04/03/2021 03:10 PM IST
  • अमेरिकी थिंक टैंक फ्रीडम हाउस के द्वारा भारत को लोकतांत्रिक व फ्री सोसाइटी वाले देश के श्रेणी में फ्री से घटाकर आंशिक फ्री करने पर बसपा अध्यक्ष मायावती ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होने केंद्र और राज्य सरकारों को सलाह दी है कि वह भारत की प्रतिष्ठा को आधात से बचाने के लिए सही दिशा में कार्य करे.
बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया ट्वीट.( प्रतीकात्मक फोटो )

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने अमेरिकी थिंक टैंक फ्रीडम हाउस द्वारा भारत को लोकतांत्रिक व फ्री सोसाइटी वाले देश के श्रेणी में फ्री से घटाकर आंशिक फ्री करने वाली खबर से चिन्ता व्यक्त की है. गुरुवार को मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा, क्या विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश भारत में अंशिक लोकतंत्र है. मायावती ने अपनी पार्टी बसपा की ओर से सलाह देते हुए केंद्र और राज्य सरकारों से अपील की है कि वह भारत की प्रतिष्ठा को आधात से बचाने के लिए सही दिशा में कार्य करे.

मायावती ने ट्वीट में कहा ''विश्व के सबसे बड़े अपने लोकतांत्रिक भारत देश में क्या आंशिक लोकतंत्र व स्वतंत्रता है? अमेरिकी थिंक टैंक फ्रीडम हाउस द्वारा भारत को लोकतांत्रिक व फ्री सोसाइटी वाले देश के श्रेणी में ’फ्री’ से घटाकर ’आंशिक फ्री’ किए जाने की खबर हर जगह सुर्खियों में है जो अत्यन्त चिन्ताजनक बात है."

लखनऊ से पूर्वोत्तर राज्यों की सैर के लिए IRCTC डीलक्स ट्रेन से कराएगा यात्रा

इसके अलावा एक अन्य ट्वीट में मायावती ने कहा, "ऐसी स्थिति में केन्द्र व सभी राज्यों की सरकारों को भी इसे अति-गंभीरता से लेते हुए विश्व स्तर पर भारत की प्रतिष्ठा को कोई आहत/आघात लगने से बचाने के लिए काफी सही ढंग से व सही दिशा में कार्य करना बहुत जरूरी, बीएसपी की यह सलाह."

पारंपरिक से ट्रेडिंग तक, ग्राहकों का अटूट विश्वास है बद्री सर्राफ रिंग रोड

हाल ही में अमेरिकी थिंक टैंक फ्रीडम हाउस ने भारत को लोकतांत्रिक व फ्री सोसाइटी वाले देश के श्रेणी में फ्री से घटाकर आंशिक फ्री श्रेणी में कर दिया है. इस बात को लेकर दुनियाभर में भारत के ऊपर चर्चा शुरु हो गई है.

लकड़ी के अवैध कटान मामले में पूर्व IAS समेत 4 लोगों के खिलाफ CBI जांच के आदेश

कंडोम के गोदाम पर पुलिस और FSDA की संयुक्त छापेमारी, माल सील कर बिक्री पर रोक

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें