कार-बाइक का ऑल इंडिया रजिस्ट्रेशन करेगी सरकार, BH से शुरू होंगे गाड़ियों के नंबर, ऐसे मिलेगा RC

Ankul Kaushik, Last updated: Sun, 29th Aug 2021, 12:34 PM IST
  • केंद्र सरकार ने वाहनों के लिए एक बड़ा फैसला लिया है, अब केंद्र सरकार भारत सीरीज के तहत कार-बाइक का ऑल इंडिया रजिस्ट्रेशन करेगी. इन वाहनों के नंबर BH नंबर के साथ शुरू होंगे. बीएच सीरीज में रजिस्ट्रेशन के बाद ही वाहन मालिकों को आरसी मिलेगी.
BH भारत सीरीज के तहत कार-बाइक का ऑल इंडिया रजिस्ट्रेशन होगा

लखनऊ. केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने कार-बाइक का ऑल इंडिया रजिस्ट्रेशन शुरू करने का फैसला लिया है. इस रजिस्ट्रेशन के तहत वाहन मालिकों को भारत सीरीज के तहत बीएच का नंबर मिलेगा. इस नई भारत सीरीज के अनुसार नए वाहनों के लिए एक नया रजिस्ट्रेशन चिह्न BH पेश किया गया है. अगर आपकी गाड़ी पर बीएच लिखा हुआ होगा तो जब मालिक एक राज्य से दूसरे राज्य में रहने के लिए जाएगा तो बीएच मार्क वाले वाहन को नए रजिस्ट्रेशन चिह्न की आवश्यकता नहीं होगी. यह सुविधा अभी केंद्र और राज्य सरकार के रक्षा कर्मियों, कर्मचारियों के लिए स्वैच्छिक आधार पर उपलब्ध होगी. केंद्रीय और राज्य पीएसयू और निजी क्षेत्र की कंपनियां जिनके कार्यालय 4 या अधिक राज्यों या संघ राज्य क्षेत्रों में हैं उनके लिए यह सुविधा होगी. मंत्रालय द्वारा जारी की गई इस अधिसूचना के अनुसार बीएच सीरीज वाहन के लिए रजिस्ट्रेशन 15 सितंबर 2021 से होंगे.

बीएच सीरीज के रजिस्ट्रेशन को लेकर मंत्रालय ने कहा है कि बीएच मार्क सीरीज का रजिस्ट्रेशन वॉलिएंटरी बेसिस पर होगा. उन लोगों के लिए यह अच्छी खबर है जो नौकरी के चलते कई राज्यों में आते-जाते रहते हैं. वाहन सुविधा के होने वाला यह नया रजिस्ट्रेशन सरकारी और निजी क्षेत्र के कर्मचारियों दोनों के लिए उपलब्ध कराया जाएगा.

गाड़ी की प्लेट पर DL, HR, UP के साथ अब मिलेगा BH, जानें इस नंबर की खासियत

बता दें मोटर वाहन अधिनियम, 1988 की धारा 47 के तहत किसी व्यक्ति को वाहन रजिस्ट्रेशन होने वाले राज्य के अलावा किसी भी राज्य में 12 महीने से अधिक समय तक वाहन रखने की अनुमति नहीं है. हालांकि नए राज्य-रजिस्ट्रेशन प्राधिकरण के साथ एक नया रजिस्ट्रेशन 12 महीने के निर्धारित समय के भीतर किया जाना अनिवार्य है. हालांकि अब वाहन मालिकों के पास बीएच सीरीज के तहत रजिस्ट्रेशन करने का विकल्प होगा और इस मामले में उन्हें दो साल के लिए रोड टैक्स का भुगतान करना होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें