अखिलेश यादव पर महामारी एक्ट में केस दर्ज, किसान आंदोलन समर्थन में रखा था मार्च

Smart News Team, Last updated: 08/12/2020 12:04 AM IST
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और अन्य 28 लोगों पर किसान यात्रा को लेकर महामारी कानून और अन्य धाराओं मे लखनऊ पड़ने वाले पल्ली थाने में केस दर्ज हो गया है. असल में सपा मुखिया ने पार्टी कार्यकर्ताओं को सोमवार के दिन प्रदेश भर में ये यात्रा निकालना का आदेश था.   
(तस्वीर: ट्विटर)

लखनऊ: किसान यात्रा को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और अन्य 28 लोगों के खिलाफ महामारी एक्ट और कई दूसरी धाराओं में केस दर्ज हो गया है. सपा मुखिया के विरुद्ध यह केस शहर के गौतम पल्ली पुलिस स्टेशन में दाखिल हुए. जिसकी जानकारी खुद ज्वाइंट कमिश्नर लखनऊ पुलिस नवीन अरोड़ा ने दी है. आपको बता दें कि सोमवार को सपा अध्यक्ष के आह्वान पर प्रदेश में कार्यकर्ता जगह-जगह पर ऐसी यात्रा निकालने वाला था. लेकिन, सरकार ने पहले ही प्रशासन को आदेश दे दिए थे. जिसके चलते इन्हें पुलिस ने रोका.

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए ट्वीट कर लिखा कि बीजेपी खुद समारोह कर रही और विपक्ष को कोरोना के नाम पर गिरफ्तार कर रही है. यह बीजेपी का दोहरा मानदंड जनता देख रही है. बीजेपी हताश है क्योंकि किसानों के साथ अब जनता भी जुड़ गयी है. जब सत्ता दमनकारी हो जाती है तो आंदोलन को क्रांति बनते देर नहीं लगती. हम भी देखते हैं कि भाजपा कितने दिन रोकेगी.

लखनऊ में हिरासत में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, बोले-भाजपा कर रही लोकतंत्र की हत्या

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने आगे कहा कि पार्टी ने शांतिपूर्ण रैली निकालने का फैसला लिया था जिसे सरकार ने जानबूझकर रोका. जगह-जगह से लोगों के घायल होने की सूचना मिली है. पूरे प्रदेश में समाजवादी कार्यकर्ता गिरफ्तार हुए हैं. हमारी पार्टी किसानों के 8 दिसंबर को होने वाले भारत बंद का पूरा समर्थन करती है.

CM योगी ने भारत बंद पर की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा-किसानों को गुमराह किया जा रहा है

वहीं, आपको बता दें कि पूर्व मंत्री और पार्टी प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी को भी पूर्व मुख्यमंत्री के साथ सोमवार दोपहर से शाम तक हिरासत में लिया था. उन्होंने खुद बताया कि पहले तो अखिलेश यादव के घर जाने वाले रास्ते और हजरतगंज में पड़ने वाले पार्टी कार्यालय को रविवार को ही प्रशासन ने बंद कर दिया था. इसके साथ ही जब सपा प्रमुख सोमवार को किसान यात्रा में शामिल होने के लिए घर से निकले तो पुलिस ने उनके कारवां में लगी कारों को भी बुक कर दिया.

Bharat Bandh: UP में 8 दिसंबर को किसान प्रर्दशन के बीच जानें क्या बंद, क्या खुला

पुराने वाहनों में अब हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाना जरूरी नहीं, आदेश जारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें