CBSE ने 10वीं के अंग्रेजी पेपर से विवादित सवाल हटाया, छात्रों को फुल मार्क्स

Swati Gautam, Last updated: Mon, 13th Dec 2021, 4:42 PM IST
  • केंद्रीय शिक्षा माध्यमिक बोर्ड (CBSE) की 10वीं कक्षा के अंग्रेजी विषय की परीक्षा में सवालों को लेकर हुए हंगामे के बाद नोटिस जारी करते हुए कहा है कि कक्षा 10 के अंग्रेजी के पेपर में आया पैसेज नंबर 1 बोर्ड की गाइडलाइंस के अनुरूप नहीं है. प्रश्न पत्र से विवादित सवाल हटा दिया गया है. इस सवाल के लिए सभी स्टूडेंट्स को फुल मार्क्स दिये जाएंगे.
 CBSE ने 10वीं के अंग्रेजी पेपर से विवादित सवाल हटाया, छात्रों को फुल मार्क्स (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. केंद्रीय शिक्षा माध्यमिक बोर्ड (CBSE) की 10वीं कक्षा के अंग्रेजी विषय की परीक्षा में पूछे गए विवादित सवाल पर हंगामा मचने के बाद बोर्ड ने इसे वापस लेने का बड़ा ऐलान किया है. सीबीएसई बोर्ड ने नोटिस जारी करते हुए बताया है कि कक्षा 10 के अंग्रेजी के पेपर में आया पैसेज नंबर 1 बोर्ड की गाइडलाइंस के अनुरूप नहीं है. प्रश्न पत्र से विवादित सवाल हटा दिया गया है. इस सवाल के लिए सभी स्टूडेंट्स को फुल मार्क्स दिये जाएंगे. बता दें कि 11 दिसंबर को सीबीएसई बोर्ड की तरफ से 10वीं कक्षा के अंग्रेजी विषय की परीक्षा का आयोजन किया गया था. इस परीक्षा के प्रश्नपत्र में आए सवाल को लेकर हंगामा खड़ा हो गया था. कई छात्रों और अभिवावकों ने सीबीएसई पर परीक्षा में महिला विरोधी और आपत्तिजनक प्रश्न पूछने का आरोप लगाया था.

सीबीएसई द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है कि 11 दिसंबर, 2021 को आयोजित सीबीएसई 10वीं कक्षा की टर्म-1 परीक्षा के अंग्रेजी भाषा और साहित्य के पेपर के एक सेट में एक पैसेज यानी गद्यांश के प्रश्न बोर्ड के दिशा-निर्देशों के अनुसार नहीं है. इस पृष्ठभूमि में और हितधारकों से प्राप्त फीडबैक के आधार पर मामले को विषय विशेषज्ञों की एक समिति के पास भेजा गया था. उनकी सिफारिश के अनुसार, प्रश्न पत्र श्रृंखला जेएसके/1 के गद्यांश संख्या 1 और उससे जुड़े प्रश्नों को छोड़ने का निर्णय लिया गया है. इस पैसेज के लिए सभी संबंधित छात्रों को पूरे अंक दिए जाएंगे.

रेलवे ने इन पदों पर निकाली भर्ती, बिना एग्जाम होगा सिलेक्शन, ऐसे करें अप्लाई

सोनिया गांधी ने भी संसद में उठाया था मामला

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी इस मुद्दे को लोकसभा में उठाते हुए कहा था कि सीबीएसई की 10वीं की परीक्षा में एक बेहद आपत्तिजनक पैसेज दिया गया. उन्होंने लोकसभा में इसे तुरंत हटाने और माफी मांगने की मांग भी की थी. इतना ही नहीं सोनिया गांधी ने शिक्षा मंत्रालय से यह भी मांग की थी कि यह सुनिश्चित किया जाए कि भविष्य में ऐसी गलती न हो.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें