सीएम ने दिए आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय में तैनात ओएसडी को हटाने के आदेश

Smart News Team, Last updated: Tue, 19th Jan 2021, 5:25 PM IST
  • गलत तरीके से की गई थी नियुक्ति, जबकि विश्वविद्यालय के अधिनियम के अनुसार राज्य सरकार के पूर्वानुमोदन के सिवाय अथवा राज्य सरकार के किसी सामान्य या विशेष आदेश के अलावा कोई भी पद विश्वविद्यालय में सृजित नहीं किया जा सकता।
उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय

लखनऊ : सैफई के उत्तर प्रदेश राज्य आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय में विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) गुरुजीत सिंह कल्सी की सेवाएं तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी गई हैं। 

अमौसी से आगरा की सीधी उड़ान 28 मार्च से, पौने दो घंटे का होगा सफर

सीएम योगी की ओर से सोमवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। पिछले साल अगस्त में इसी विश्वविद्यालय से निदेशक वित्त के रूप में सेवानिवृत्त होने के बाद गुरुजीत को नवंबर में विश्वविद्यालय का ओएसडी नियुक्त किया गया था। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि गुरुजीत सिंह कल्सी को ओएसडी के रूप में निर्धारित मानदेय भी दिया जाता है। जबकि विश्वविद्यालय के अधिनियम के अनुसार राज्य सरकार के पूर्वानुमोदन के सिवाय अथवा राज्य सरकार के किसी सामान्य या विशेष आदेश के अलावा कोई भी पद विश्वविद्यालय में सृजित नहीं किया जा सकता।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें