CM योगी का बड़ा ऐलान- स्वास्थ्य विभाग के फ्रंटलाइन वर्कर्स को 25% ज्यादा सैलरी

Smart News Team, Last updated: 04/05/2021 09:31 AM IST
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य विभाग के फ्रंटलाइन वर्कर्स को 25 प्रतिशत ज्यादा सैलरी देने की घोषणा की है. कोविड ड्यूटी में तैनात डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ समेत सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स को अधिक मानदेय दिया जाएगा.
सीएम योगी आदित्यनाथ ने फ्रंटलाइन वर्कर्स का 25 फीसदी मानदेय बढ़ाया.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को बड़ी घोषणा करते हुए फ्रंटलाइन वर्कर्स के मानदेय में 25 फीसदी की बढ़ोतरी की है. सीएम योगी का कहना है कि सरकार की कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हर कोई अपने तरीके से सेवा दे रहा है. प्रमुख रूप से स्वास्थ्य विभाग के फ्रंटलाइन वर्कर्स का बड़ा योगदान है. वह कोरोना मरीजों के इलाज में किसी तरह की कमी नहीं छोड़ रहे हैं. कोरोना के खिलाफ इस जंग में फ्रंटलाइन वर्कर्स ने जिस तरह से मोर्चा संभाला हुआ है उसी का नतीजा है कि कोविड टेस्टिंग में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है. कोरोना मरीज बड़ी संख्या में हर दिन ठीक हो रहे हैं.

सीएम योगी ने स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाने के साथ ही कहा कि ‘कोरोना हारेगा, भारत अवश्य जीतेगा’ को पूरी तरह से साकार करने में फ्रंटलाइन वर्कर्स जुटे हुए हैं. उनके योगदान को कभी नहीं भुलाया जा सकता है. मुख्यमंत्री ने अपील करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के विरुद्ध लड़ाई में सभी की दायित्वपूर्ण भागीदारी कोरोना मुक्त समाज की स्थापना के लिए बहुत जरूरी है. इसके लिए मिलकर मानवता की रक्षा के लिए अपने-अपने प्रयास जारी रखने होंगे.

यूपी में सस्ती हो गई शराब, अब इतने कम दाम में मिलेगी बोतल, जानें रेट लिस्ट

मुख्यमंत्री ने मेडिकल और पैरामेडिकल छात्रों को कोरोना की इस लड़ाई में शामिल करने का फैसला लिया है. सीएम का कहना है कि वह जल्द ही उनके लिए स्पेशल पैकेज घोषित करेंगे. इसी के साथ जो हेल्थ वर्कर्स, डॉक्टर रिटायर हो गए हैं उन्हें भी कोविड ड्यूटी के लिए लगाया जाए और उन्हें भी स्पेशल पैकेज दिया जाएगा. सरकार की तरफ से जल्द ही इसके लिए आदेश जारी किए जाएंगे. 

सावधान! रेमडेसिविर की जल्दबाजी में ना हो जाए ठगी, ऐसे हो रहा ऑनलाइन फ्रॉड 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें