UP में कोरोना केस हुए कम, ऑक्सीजन और जीवनरक्षक दवाओं का नहीं अभाव: CM योगी

Smart News Team, Last updated: Tue, 27th Apr 2021, 7:08 AM IST
  • उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए हर संभव उपाय कर रही है. एक दिन में 33 हजार से ज्यादा मामले आए और 26 हजार से ज्यादा को अस्पताल से छुट्टी दी गई. जिसके बाद सीएम ने कहा कि यूपी में कोरोना केस कम हो रहे हैं.
CM योगी का दावा- UP में कोरोना केस हुए कम.

लखनऊ. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या में कमी आई है और संक्रमण के नए मामलों में भी गिरावट देखने को मिली है. सीएम योगी ने साथ ही कहा कि कोरोना मरीजों के लिए प्रदेश में ना तो ऑक्सीजन की कमी है और ना ही दवाएं कम हैं. राज्य में कोरोना संक्रमितों के लिए जीवन रक्षक दवाओं का अभाव नहीं है. उत्तर प्रदेश में कोरोना के भयंकर रूप पर काबू पाने के लिए योगी सरकार हर उपाय करने में लगी है. सीएम ने कोरोना से बचाव को लेकर कई अन्य निर्देश भी दिए हैं.

सीएम योगी ने कहा जिन लोगों को कोरोना लक्षण दिखने के बाद होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है वह घरों पर रहकर भी डॉक्टर से संपर्क बनाए रखें. जानकारी के लिए बता दें कि यूपी में सोमवार शाम तक 33,574 कोरोना के नए केस सामने आए थे. इसी के साथ यूपी के विभिन्न अस्पतालों से 26,719 मरीजों को छुट्टी दे दी गई है. 

RTPCR का नहीं करें इंतजार, एंटीजेन रिपोर्ट पर संक्रमित भर्ती करें- CM योगी

यूपी में 1 मई से 18 साल से ऊपर के लोगों का कोरोना वैक्सीनेशन शुरू किया जाना है. मुख्यमंत्री योगी ने इसके लिए केंद्र सरकार से 1 करोड़ टीके की मांग की है. वहीं सक्रमित मरीजों के लिए ऑक्सीन की उपलब्धता को लेकर सीएम योगी ने केंद्र से बात भी की है. लखनऊ में कोरोना मरीजों के लिए एक राहत की खबर है कि ऑक्सीनज की तीसरी खेप भी बोकारो से पहुंचने वाली है. इससे यूपी की राजधानी में ऑक्सीजन की कमी से लड़ने में मदद मिलेगी. 

एक था टाइगर: कई बार मौत को चकमा देने वाले रॉ एजेंट कोरोना से हार गए जंग 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें