CM योगी का निर्देश- इन शर्तों के साथ वीकेंड लॉकडाउन में होंगी शादी-पार्टी आयोजित

Smart News Team, Last updated: Sun, 18th Apr 2021, 12:37 PM IST
  • वीकेंड लॉकडाउन के दिन विवाह समारोह आयोजित करने के लिए सेनेटाइजर, मास्क एवं सामाजिक दूरी जैसी आवश्यक सावधानियां बरतनी होगी. साथ ही खुले कार्यक्रम स्थल पर अधिकतम 100 एवं बंद स्थल पर अधिकतम 50 व्यक्ति के एकत्र होने की अनुमति होगी.
CM योगी का निर्देश- इन शर्तों के साथ वीकेंड लॉकडाउन में होगें शादी-पार्टी आयोजित (प्रतीकात्मक तस्वीर)

लखनऊ. सीएम योगी ने रविवार को वीकेंड लॉकडाउन के दिन वैवाहिक आयोजनों को लेकर स्थिति स्पष्ट कर दी है. उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन वाले दिन शादी-विवाह के कार्यक्रम हो सकेंगे. लेकिन इस दौरान समारोह में लोगों को सेनेटाइजर, मास्क एवं सामाजिक दूरी के साथ ही अन्य सावधानियां बरतनी होगी. इसके अलावा खुले स्थान पर होने वाले वैवाहिक कार्यक्रम में अधिकतम 100 लोग एवं बंद स्थान पर 50 लोगों के एकत्रित होने की ही अनुमति होगी. वहीं कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री ने दवा के साथ अस्पतालों में न्यूनतम 36 घंटे का ऑक्सीजन बैकअप बनाए रखने का भी निर्देश दिया है.

शनिवार को मुख्यमंत्री योगी ने वर्चुअल माध्यम से कोरोना की स्थिति की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने बताया कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य से जुड़ी जरूरी सुविधाएं एवं वस्तुओं की आपूर्ति वीकेंड लॉकडाउन के दौरान पहले की तरह ही जारी रहेगी. रविवार को होने वाली एनडीए एवं अन्य परीक्षाओं को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कराने की अनुमति होगी. जिसमें परीक्षार्थियों का परिचय पत्र ही पास के रूप में मान्य होगा. इसके अलावा कंटीन्यूस प्रोसेस इंडस्ट्री, फार्मास्यूटिकल, दवा, सेनेटाइजर उद्योगों को साप्ताहिक बंदी के दिन चलाने की भी अनुमति होगी.

Exams 2021: कोरोना के कारण यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा टली, जानें नई डेट कब होगी घोषित

कोरोना के कहर को देखते हुए सीएम ने ऑक्सीजन आपूर्ति को अधिक बेहतर बनाने के लिए राज्य में अलग-अलग स्थानों पर 10 नए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने को भी कहा है. जिसमें डीआरडीओ अपना सहयोग प्रदान करेगा और चिकित्सा शिक्षा मंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री इसकी लगातार समीक्षा करेंगे. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने ऑक्सीजन आपूर्ति, रेमेडिसिविर एवं अन्य जरूरी औषधियों की उपलब्धता पर नजर बनाए रखने का भी निर्देश दिया है. साथ ही राज्य में आरटीपीसीआर टेस्ट की संख्या में बढ़ोत्तरी करने को भी कहा है.

ऑनलाइन ठगी में लूट गई रकम भी आसानी से आ जाएगी खाते में वापस, जानें कैसे

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें