योगी सरकार का बड़ा फैसला, मृतक आश्रित कोटे में विवाहित बेटी को भी नौकरी

Sumit Rajak, Last updated: Thu, 11th Nov 2021, 10:59 AM IST
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेटियों के हित में अहम फैसला लिया है. योगी सरकार ने फैसला किया है कि मृतक आश्रित कोटे पर विवाहित महिला को भी नौकरी दी जाएगी.प्रदेश में मृतक आश्रित कोटे पर अनुकंपा के आधार पर पुत्र, विवाहित पुत्र व विवाहित बेटियों को नौकरी देने की व्यवस्था थी.
Uttar Pradesh chief minister Yogi Adityanath  (FILE PHOTO)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेटियों के हित में अहम फैसला लिया है. योगी सरकार ने फैसला किया है कि मृतक आश्रित कोटे पर विवाहित महिला को नौकरी दी जाएगी. प्रदेश में अभी तक इस तरह की व्यवस्था नहीं थी. मुख्यमंत्री के इस फैसले से विवाहित महिला की मृतक आश्रित कोटे पर सरकारी नौकरी पाने का रास्ता साफ हो गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कैबिनेट बाई सर्कुलेशन इस प्रस्ताव को मंजूरी दी है. प्रदेश में अभी तक मृतक आश्रित कोटे पर अनुकंपा के आधार पर पुत्र, विवाहित पुत्र व विवाहित बेटियों को नौकरी देने की व्यवस्था थी. विवाहित पुत्रियों के लिए व्यवस्था न होने पर इनको मृतक आश्रित कोटे पर अनुकंपा के आधार पर नौकरियां नहीं मिल पा रही थीं. कुछ मामलों में तो इकलौटी विवाहित बेटी होने के चलते परिवारों को परेशानियों का सामना करना पड़ जाता था.

मुख्यमंत्री की जानकारी में मामला आने के बाद पुरानी व्यवस्था में संशोधन करने पर सहमति बनी कि कुटुंब की परिभाषा में विवाहित पुत्रियों को भी जोड़ दिया जाए. इसके आधार पर कार्मिक विभाग ने उत्तर प्रदेश सेवाकाल में मृत सरकारी सेवकों के आश्रितों की भर्ती (बारहवां संशोधन) नियमावली-2021 को कैबिनेट मंजूरी के लिए भेजा था. मुख्यमंत्री ने इस प्रस्ताव को कैबिनेट बाई सर्कुलेशन मंजूरी दे दी है. प्रदेश के सरकारी विभागों में अब अनुकंपा के आधार पर विवाहित बेटियों को नौकरी मिलने का रास्ता साफ हो गया है.

अयोध्या में राज्यों को मिलेगा प्लॉट, बिना नीलामी और लॉटरी के ऐसे मिलेगी जगह

दरअसल, मृतक आश्रित कोटे के तहत नौकरी को लेकर कई मामले हाईकोर्ट पहुंचे थे. इसमें कुटुंब की परिभाषा में विवाहित पुत्री और परित्यक्ता पुत्रियों को भी शामिल करने की मांग की गई थी. जिसके बाद हाईकोर्ट ने यूपी सरकार को मृतक आश्रित भर्ती नियमावली में संशोधन करने का आदेश दिया था. हाईकोर्ट के इस आदेश के बाद सरकार ने यूपी सेवा काल में मृत सरकारी सेवक के आश्रितों की भर्ती नियमावली 1974 के नियम 2 (ग) (तीन) में संशोधन किया है. अब इस संशोधन के बाद विवाहित बेटियां और परित्यक्ता पुत्री मृतक आश्रित कोटे के तहत नौकरी पाने की हकदार होंगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें