CM योगी ने रेमडेसिविर की कमी पर लिया बड़ा फैसला, गुजरात से मंगाए 25हजार इंजेक्शन

Smart News Team, Last updated: Wed, 14th Apr 2021, 4:34 PM IST
  • कोरोना महामारी से निपटने में रेमडेसिविर को जीवनरक्षक माना जा रहा है. बाजार में इसकी कमी को देखते हुए सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश के लिए गुजरात से 25 हजार इंजेक्शन मंगाए हैं.
सीएम योगी ने गुजरात से मंगाए रेमडेसिविर इंजेक्शन.

लखनऊ. कोरोना महामारी में रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग अचानक बढ़ गई है. योगी सरकार ने भी गुजरात से 25 हजार डोज तुरंत मंगाने का आदेश जारी किया है. सीएम योगी ने प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग को इस बारे में तुरंत एक्शन लेने के लिए कहा है. इसी के साथ रेमडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता को सुनिश्चित करने का आदेश दिया है.

यूपी के मुख्यमंत्री खुद कोरोना संक्रमित होने के बावजूद राज्य में कोविड से जंग के उपायों को लेकर नजर बनाए हुए हैं इसी के साथ राज्य के लिए बड़े फैसले ले रहे हैं. रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी सिर्फ उत्तर प्रदेश में ही नहीं बल्कि पूरे भारत में देखने को मिल रही है.

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने चिकित्सकों से कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के इलाज में रेमडेसिविर इंजेक्शन का सही प्रयोग करने का आग्रह किया है. आईएमए ने कहा कि प्रमाण आधारित फायते की संभावना से अलग कई जगहों पर इसका बिना तर्क के इस्तेमाल करने से भी इसकी किल्लत पैदा हुई है. इसी के साथ आईएमए ने कहा कि सभी को इंजेक्शन के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए जिससे वह तर्कसंगत तरीके से इसका इस्तेमाल कर सकें. 

CBSE बोर्ड एग्जाम को लेकर बड़ा फैसला, 12वीं की परीक्षा टली, 10वीं के कैंसिल

कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए जीवनरक्षक माने जा रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन के निर्यात पर केंद्र सरकार ने रोक लगा दी है. पिछले कुछ दिनों से रेमडेसिविर इंजेक्शन की बाजार में कमी हो गई है. ऐसे में सरकार का निर्यात पर रोक लगाने का फैसला अहम है. केंद्र सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि देश में 11 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं. महामारी से निपटने के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग बढ़ गई है. आने वाले दिनों में इस मांग में और इजाफा देखने को मिल सकता है. 

इलाहबाद HC का निर्देश, बोर्ड के छात्रों को कोविड वैक्सीन लगाने पर करें विचार 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें