CM योगी का आदेश- कोरोना मरीजों से ज्यादा पैसे वसूले तो सीज होंगे अस्पताल

Smart News Team, Last updated: Sat, 15th May 2021, 9:19 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में अब कोरोना मरीजों और उनके परिजनों से निर्धारित दर से अधिक वसूली पर निजी अस्पतालों का लाइसेंस निरस्त किया जाएगा. इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को उच्च स्तरीय बैठक के दौरान निर्देश देते हुए ऐसे अस्पतालों पर कड़ी कार्रवाई करने को कहा है.
कोरोना मरीजों से अधिक वसूली करने वाले प्राइवेट हॉस्पिटलों की अब खैर नहीं (फाइल फोटो)

लखनऊ. कोरोना काल में मरीजों से निर्धारित दर से अधिक पैसा वसूलने वाले निजी अस्पतालों पर यूपी सरकार सख्त हो गई है. इस संबंध में योगी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए मरीजों से अधिक वसूली करने वाले अस्पतालों को तत्काल रूप से सीज करने का निर्देश जारी किया है. सीएम ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे यह सुनिश्चित करें कि किसी भी मरीज या उनके परिजनों से अस्पतालों में निर्धारित दर से अधिक वसूली न हो. इसके अलावा कोरोना मरीजों को ऐसे अस्पतालों से डिस्चार्ज करके दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट कराया जाएगा.

शनिवार को उच्च स्तरीय बैठक में मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि यदि कोरोना संक्रमित मरीजों से निर्धारित दर से अधिक वसूली करने की शिकायत प्राप्त होती है तो सरकार उस प्राइवेट हॉस्पिटल का लाइसेंस तत्काल रद्द कर देगी. सीएम ने कहा है कि निजी अस्पतालों में मरीजों अथवा उनके परिजनों से इलाज के नाम पर मनमानी वसूली करने के लिए अस्पताल दबाव नहीं बना सकेंगे. बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि ऐसी शिकायतें प्राप्त होने पर वे अस्पतालों की जांच करने के बाद कड़ी कार्रवाई करें.

गुड न्यूज: यूपी में गिर रहा कोरोना का ग्राफ, एक दिन में इतने नए कोविड केस

सीएम योगी के निर्देश के अनुसार शिकायत वाले अस्पतालों से दूसरे अस्पतालों में कोविड मरीजों को शिफ्ट करके कार्रवाई की जाएगी. इसके अलावा सीएम योगी ने यह भी निर्देश दिया है कि जो मरीज संक्रमण से स्वस्थ हो चुके हो, लेकिन उन्हें चिकित्सकीय निगरानी में रहने की जरूरत है. तो ऐसी स्थिति में मरीजों के लिए उनकी मेडिकल कंडीशन के आधार पर एल-1 अस्पताल में ऑक्सीजन युक्त बेड पर भर्ती किया जाएगा. जिसका आर्थिक व्यय सरकार पर होगा.

योगी आदित्यनाथ सरकार का फैसला- यूपी में 24 मई तक बढ़ाया गया कोरोना लॉकडाउन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें