CM योगी बोले- पराली जलाने पर किसानों के साथ पुलिस जुल्म या उत्पीड़न ना करें

Smart News Team, Last updated: Fri, 6th Nov 2020, 4:25 PM IST
  • यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने पड़ोसी राज्यों की सरकारों से अपील करते हुए कहा कि पराली जलाने पर किसानों का उत्पीड़न ना किया जाए.
पराली जलाने पर किसानों का उत्पीड़न ना किया जाए.

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने पराली जलाने पर किसानों के साथ उत्पीड़न ना करने का आदेश दिया है. सीएम योगी ने कहा कि पड़ोसी राज्यों की सरकारें किसानों पर मुकदमें कर रही हैं और उन्हें गिरफ्तार कर रही हैं. सीएम योगी ने सभी सरकारों से अपील करते हुए कहा कि गरीब किसानों को परेशान ना किया जाए.

उत्तर प्रदेश पुलिस पराली जलाने वालों पर कार्रवाई कर रही है. मैनपुरी में पराली जलाने पर कई लोगों पर केस दर्ज किया जा चुका है. गुरुवार को मैनपुरी में पराली जलाने के आरोप में पांच किसानों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया. गिरफ्तारी के दौरान प्रभारी निरीक्षक एक किसान को कॉलर पकड़कर खींचते हुए दिखाई दिए. जिसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने किसानों पर उत्पीड़न न करने के आदेश दिए हैं.

सीएम योगी का ओएसडी बनकर सीएम आवास पर किया फोन, गिरफ्तार

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किसानों की गिरफ्तारी पर ट्वीट करते हुए कहा कि पड़ोसी राज्य सरकारें पराली जलाने वाले किसानों पर मुकदमे कर रहीं हैं और उन्हें गिरफ्तार कर रहीं हैं. मेरी सभी सरकारों से अपील है कि गरीब किसान को सताया ना जाए. पूसा इन्स्टिटूट ने एक घोल बनाया है जिसके छिड़कने से 20 दिन में पराली खाद बन जाती है.  

लखनऊ पुलिस ने CAA के विरोध में हुई हिंसा के आरोपियों के चिपकवाए पोस्टर

अरिवंद केजरीवाल ने कहा कि हमने इस साल सारी दिल्ली के खेतों में फ्री में इस घोल का छिड़काव किया. बहुत बढ़िया नतीजे आए. घोल बहुत सस्ता है. इस घोल को आप भी अपने सभी किसानों को मुफ्त दीजिए. वो कभी पराली नहीं जलाएँगे. किसान हमारे अन्नदाता हैं. हमें उसकी इज्जत करनी चाहिए. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में पराली जलाने के आरोप में अब तक 1100 से ज्यादा किसानों के खिलाफ एफआईआर की जा चुकी है. वहीं बीते 24 घंटों में यूपी के तमाम जिलों में 144 एफआईआर दर्ज की गई हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें