कोरोना की मार के बीच CM योगी की चेतावनी, कार्यशाली सुधार लें अधिकारी वरना..

Smart News Team, Last updated: Sat, 17th Apr 2021, 9:17 PM IST
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चेतावनी जारी करते हुऐ अधिकारियों से कहा है कि वो अपनी कार्यशौली में सुधार ले आएं नहीं तो उनके खिलाफ कार्रवाई में देरी नहीं की जाएगी.
कोरोना की मार के बीच CM योगी की चेतावनी, कार्यशाली सुधार लें अधिकारी वरना.. (फाइल फ़ोटो)

लखनऊ: यूपी में बढ़ते कोरोना मामलों से हहाकार मचा हुआ है. उत्तर प्रदेश के लचर स्वास्थ व्यवस्था की कलई खुलने के बाद प्रशासन काफी सख्त हो गया है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चेतावनी जारी करते हुऐ अधिकारियों से कहा है कि वो अपनी कार्यशौली में सुधार ले आएं नहीं तो उनके खिलाफ कार्रवाई में देरी नहीं की जाएगी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इंटीग्रेटेड कंट्रोल  एंड कमांड सेंटर में लगे समस्त अधिकारियों को अपनी ड्यूटी को पूरी ईमानदारी और निष्पक्षता के साथ करने के कड़े निर्देश जारी किए हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ये भी कहा कि लखनऊ स्थित इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर को युद्धस्तर पर प्रभावी बनाया जाए. उन्होंने अधिकारियों से कहा है जनता को सरकार पर विश्वास है और उनके विश्वास को बनाए रखने के लिये इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर काफी कारगर सिद्ध हो सकता है.

मुख्यमंत्री ने आदेश भरे लहजे में कहा की तत्काल प्रभाव से सभी आला अधिकारी जनता की आवश्यकता की पूर्ति करने में जुट जाएं. कोविड-19 प्रबंधन हेतु गठित टीम-11 के साथ बैठक के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने बीमारी की रोकथाम के साथ ही जागरूकता के लिये किये जा रहे कार्यों में तेजी लाने के सख्त निर्देश भी दिये हैं. उन्होंने कहा है कि इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर जनता के लिये उपयोगी है. सरकार का उद्देय जनता की सेवा के साथ उनकी समस्याओं का तत्काल निवारण है कि जिससे उनको राहत मिल सके. मुख्यमंत्री ने कहा की संक्रमण के फैलाव को न्यूनतम रखने की दृष्टि से यह अत्यन्त जरूरी है कि कंटेनमेंट जोन के प्रावधानों को सख्ती से लागू किया जाए और कंटेनमेंट जोन में अधीक सख्ती बरती जाए.

UPSSSC ने सरकारी परीक्षाओं के लिए वन टाइम रजिस्ट्रेशन किया जरूरी, जानें डिटेल्स

स्वच्छता अभियान में लाएं तेजी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त निर्देश जारी करते हुए अधिकारियों से प्रदेश भर में स्वच्छता अभियान को जारी रखने के साथ और तेज करने को कहा है. मुख्यमंत्री ने कहा है कि स्वच्छता अभियान न केवल कोविड, बल्कि अन्य संक्रमण के फैलाव से लड़ने में एक बड़ा हथियार साबित हुआ है. मुख्यमंत्री ने कहा है कि एक अप्रैल से अगस्त तक का महीना कई तरह की संक्रामक बीमारियों के प्रसार का समय होता है. इसमें डेंगू, चिकनगुनिया, जापानी इंसेफेलाइटिस तथा अन्य संक्रामक बीमारियों के मामले में अक्सर वृद्धि होती है. ऐसे में स्वच्छता और सैनिटाइजेशन जरूरी है. कोविड के प्रसार को रोकने की दृष्टि से यह काफी उपयोगी सिद्ध होगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें