1 करोड़ युवक-युवतियों को टैबलेट या लैपटॉप देगी योगी सरकार, 3000 करोड़ बजट

Smart News Team, Last updated: Thu, 19th Aug 2021, 8:29 PM IST
  • योगी सरकार उत्तर प्रदेश के एक करोड़ युवक-युवतियों को स्मार्ट फोन, टैबलेट या लैपटॉप देगी. ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन या किसी डिप्लोमा में एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स को लैपटॉप या टैबलेट दिया जाएगा. इसके लिए योगी आदित्यनाथ ने 3000 करोड़ का निधि कोष बनाया है. प्रतियोगी परीक्षाओं में हिस्सा लेने वाले छात्रों को भत्ता देने का फैसला भी किया गया है.
योगी सरकार का ऐलान, 1 करोड़ युवाओं को देगी लैपटॉप और टैबलेट.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को विधानसभा में अपने संबोधन में युवाओं के लिए बड़ी घोषणा की है. योगी सरकार ने 1 करोड़ युवाओं को फोन और लैपटॉप देने का ऐलान किया है. योगी सरकार ने इसके लिए तीन हजार करोड़ का बजट पास किया है. यूपी सरकार ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन या किसी डिप्लोमा में प्रवेश लेने वाले युवाओं को टैबलेट और स्मार्ट फोन देगी. इसी के साथ प्रतियोगी परीक्षाओं में हिस्सा लेने वाले युवाओं को भत्ता देने का भी फैसला किया है.

योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को विधानसभा मॉनसून सत्र में अपने संबोधन में प्रतियोगी परीक्षा दे रहे प्रत्येक छात्र-छात्रा को कम-से-कम तीन परीक्षाओं के लिए भत्ता देने की घोषणा भी की है.सीएम योगी ने इसी के साथ कहा कि सरकार निराश्रित महिलाओं के उत्थान योजनाओं को भी जल्द लेकर आ रही है. वकीलों को भी सामाजिक सुरक्षा देने के लिए योगी सरकार अब 5 लाख रुपए देगी. बता दें कि पहले ये राशि डेढ़ लाख रुपए थी. जिसे बढ़ाकर अब 5 लाख कर दिया गया है. 

इंटरनेशनल प्लेयर को सीधे DSP की नौकरी, लखनऊ में कुश्ती अकादमी: CM योगी

योगी आदित्यनाथ ने सरकारी कर्मचारियों को लुभाने के लिए भी कई घोषणाएं की हैं. काफी समय से इंतजार कर रहे सरकारी कर्मचारियों को योगी सरकार की तरफ से बड़ी सौगात मिली है. अब सरकारी कर्मचारियों को 28 फीसदी डीए और डीआर मिलेगा. योगी सरकार की इस घोषणा के बाद राज्य के 15 लाख सरकारी कर्मचारियों और 12 लाख पेंशनर्स को अब सीधा फायदा मिलेगा. प्रदेश सरकार को इस फैसले को पूरा करने के लिए करीब 6500 करोड़ रुपये सालाना खर्च करना पड़ेगा.  

CM योगी की घोषणा, माफियाओं की जब्त जमीनों पर गरीबों और दलितों के लिए बनेंगे मकान

सीएम योगी ने इसी के साथ घोषणा की है कि यूपी में माफियाओं की जब्त की गई जमीनों पर गरीबों और दलितों के लिए मकान बनाएं जाएंगे. जिसको लेकर तैयारियां भी शुरू कर दी गई है. यह वह जमीन होंगी जिसे यूपी सरकार ने हाल ही में माफियाओं की गई जमीन या अवैध भूमि होंगी. साथ ही यह वह जमीन होगी जिसे सरकार ने अवैध पाते हुए जब्त किया होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें