CM योगी देंगे गोरखपुर को आयुष विद्यालय की सौगात, 2022 से होगी चिकित्सा की पढ़ाई

Smart News Team, Last updated: 03/12/2020 10:52 PM IST
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्विटर के जरिए राज्य आयुष विश्वविद्यालय से संबंधित महाविद्यालयों के सत्र के लिए निर्देश जारी किए हैं.
योगी आदित्यनाथ ने राज्य आयुष विश्वविद्यालय के शिलान्यास के लिए निर्देश जारी किए

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सीएम ऑफिस के ट्विटर हेंडल के जरिए प्रदेश में बनने जा रहे राज्य आयुष विश्वविद्यालय को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की गई हैं. जिसके तहत प्रस्तावित विश्वविद्यालय में संबंधित महाविद्यालयों के प्रशासनिक कार्य को सत्र 2021-22 से और शिक्षण कार्य को 2022-23 से शुरू करने को कहा गया है. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश राज्य आयुष विश्वविद्यालय में करीब 815 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान लगाया जा रहा है.

इस निर्देश के बाद लखनऊ स्थित लोक निर्माम विभाग के सुपरिटेंडिंग इंजीनियर कार्यालय ने एक्सप्रेस ऑफ इंटरेस्ट मांगा है. जिससे होगा ये कि शिलान्यास के बाद निर्माण कार्य भी तत्काल शुरू कर लिया जाएगा. वहीं, इसके लिए बीती 20 नवंबर को ही सीएम योगी ने समीक्षा बैठक में विश्वविद्यालय के शिलान्यास की तिथि जनवरी माह में तय करने के आदेश दिए थे. आपको बता दें कि पिछले बजट में सीएम ने आयुष विश्वविद्यालय के लिए 10 करोड़ रुपये आवंटित कर दिए थे.

गंगा नदी के आसपास सॉलिड और अन्य वेस्ट की डंपिंग न की जाए: मुख्य सचिव

विश्वविद्यालय के लिए जिले के चौरीचौरा तहसील के मलमलिया गांव में 24.29 हेक्टेयर जमीन चिह्नित कर आयुष विभाग को मुहैया भी करवा दिया गया था. जिसकी जानकारी सीएम योगी आदित्यनाथ ने खुद फरवरी में ट्विटर के जरिए दी थी. गोरखपुर के लिए यह दूसरा मौका होगा जब शहर में स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए एम्स के बाद दूसरा बड़ा विश्वविद्यालय खोला जाएगा.

इस राज्य आयुष विश्वविद्यालय में आयुर्वेदिक, यूनानी, सिद्धा, होम्योपैथी और योग चिकित्सा की पढ़ाई होगी और इन्हीं पर शोध कार्य भी किए जाएंगे. राज्य आयुष विश्वविद्यालय से प्रदेश के 98 आयुष महाविद्यालयों जुड़े हैं. 

ओलंपिक और विश्व चैंपियनशिप के खिलाड़ी चयन के लिए AFI चलाएगा राज्य स्तर पर अभियान

वहीं, इससे जुड़े सभी निर्माण कार्य को योगी सरकार ने 2021-22 के बीच पूरा करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही इस विश्वविद्यालय के खुलने से पूर्वांचल की 6 करोड़ जनसंख्या को सीधे फायदा पहुंचेगा.

UP सरकार का ऐलान, 5 अर्जुन और 1 द्रोणाचार्य विजेता को मिलेंगे हर महीने 20 हजार

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें