CM योगी ने भारत बंद पर की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा-किसानों को गुमराह किया जा रहा है

Smart News Team, Last updated: 07/12/2020 06:05 PM IST
सीएम योगी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विपक्षियों पर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया. इसके साथ ही देश के माहौल बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है. इसके साथ ही उन्होंने कहा जो पहले एपीएमसी एक्ट का समर्थन कर रहे थे. वो आज कानून के खिलाफ हैं कुछ समझ नहीं आ रहा है.
सीएम योगी आदित्यनाथ प्रेस कॉनफ्रेंस कर मीडिया से रूबरू हुए

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कृषि कानून को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन पर सफाई देते हुए विपक्षियों पर देश में माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया. इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस पर निशाने साधते हुए कहा कि वह अपने हित पूरे करने के लिए किसानों को भड़का रही है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पहले यही दल एपीएमसी एक्ट का समर्थन करते हैं, जब कानून बन जाता है तो किसानों को गुमराह कर राजनीति करने काम करते हैं. इसके अलावा सीएम ने कहा कि कांग्रेस को देशवासियों से माफी मांगनी चाहिए.

वहीं, सीएम ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए बताया कि केंद्र सरकार ने पिछले 6 वर्षों में क्रांतिकारी कदम उठाए. जैसे पीएम फसल बीमा योजना, कृषि सिंचाई योजना, कृषि को तकनीक से जोड़ने, मंडियों को ई-नाम से जोड़कर वन नेशन वन मार्केट की सुविधा देना. इसके अलावा मोदी सरकार ने किसानों को कहीं भी फसल बेचने का मौका दिया. साथ ही पीएम के नेतृत्व में किसानों को लागत से डेढ़ गुना ज्यादा दाम किसान सम्मान निधि के द्वारा दिलवाया. यह सब फैसले ही किसानों के हित में लिए गए.

लखनऊ में हिरासत में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, बोले-भाजपा कर रही लोकतंत्र की हत्या

किसान कानून पर विपक्षी दलों का दोहरा चेहरा सामने आने की बात कहकर उनपर मुख्यमंत्री ने तंज कसा. उन्होंने बताया कि वर्ष 2010-11 में उस समय की यूपीए सरकार के द्वारा लाए जा रहे एपीएमसी एक्ट को सपा, बसपा, टीएमसी, एनसीपी जैसे दलों ने अपना समर्थन दिया था. इतना ही नहीं खुद पूर्व कृषि मंत्री शरद पवार ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लिखित में भेजा था कि इस एक्ट को सभी राज्य लागू करें. इसके साथ ही उन्होंने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा कि शरद पवार के इस काम के बारे में इन्हें जानकारी ना हो ये कैसे हो सकता है?

अखिलेश यादव की किसान यात्रा से पहले सपा लखनऊ कार्यालय में पुलिस तैनात

कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के भारत बंद का BSP चीफ मायावती ने किया समर्थन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें