कासगंज हवालात में मौत: मृतक के परिजनों से मिलने जाएंगी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी!

ABHINAV AZAD, Last updated: Fri, 12th Nov 2021, 12:48 PM IST
  • कासगंज सदर कोतवाली की हवालात में अल्ताफ की मौत के बाद कांग्रेस समेत विपक्षी दल इस मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने की तैयारी में जुट गई है. गुरूवार को कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल कासगंज पहुंचा. ऐसा माना जा रहा है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी पीड़ित अल्ताफ के परिजनों से मिलने कासगंज आ सकती हैं.
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मृतक अल्ताफ के परिजनों से मिलने कासगंज आ सकती हैं

लखनऊ. कासगंज सदर कोतवाली की हवालात में अल्ताफ की मौत के बाद सियासत गरमा गई है. अब कांग्रेस समेत विपक्षी दल इस मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने की तैयारी में है. गुरूवार को कांग्रेस के कई नेताओं ने पीड़ित परिवार के घर का दौरा किया. जबकि दिन में कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल पहुंचा. शाम को कांग्रेस नेता राशिद अल्वी पीड़ित के घर पहुंचे. इससके बाद कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद भी गांव नगला सैय्यद में मृतक अल्ताफ के घर पहुंचे.

मिली जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी कासगंज आ सकती हैं. दरअसल, अल्ताफ की मौत के बाद शहर में शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए चप्पे-चप्पे पर पुलिस को तैनात कर दिया गया है. गांव नगला सैय्यद छावनी में तब्दील कर दिया गया है. एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर गांव में पुलिस बल तैनात है. जबकि इसके अलावा शहर में भी सतर्कता बरती जा रही है. एसपी रोहन प्रमोद बोत्रे ने कहा कि मृतक के परिवार की पुलिस हर संभव मदद कर रही है. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि पुलिस हिरासत में मौत होना एक गंभीर अपराध है. सबसे पहले एफआईआर दर्ज होनी चाहिए. साथ ही हमें कानूनी लड़ाई लड़नी होगी.

अखिलेश की सभा में विवादित नारे- जिसके साथ अल्लाह और मल्लाह है उसकी नाव...

कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि पहले एफआईआर दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए. साथ ही उन्होंने कहा कि हम पीड़ित परिवार को कानूनी मदद देंगे चाहे हाईकोर्ट जाना पड़े या फिर सुप्रीम कोर्ट. कांग्रेस नेता ने कहा कि वे अल्ताफ के माता-पिता से मिले हैं, उन सभी की हालत खराब है. हमारी पार्टी हर जुर्म के खिलाफ आवाज उठाएगी. बताते चलें कि सदर कोतवाली के हवालात में 9 नवंबर को अल्ताफ की मौत हो गई थी. अल्ताफ पर किशोरी को अगवा करने का आरोप था. हालांकि इस पर पुलिस का कहना है कि अल्ताफ ने आत्महत्या की है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें