ऑक्सीजन की किल्लत के बीच मदद को आगे आईं प्रियंका, लखनऊ भिजवाया टैंकर

Smart News Team, Last updated: Wed, 28th Apr 2021, 7:36 PM IST
लखनऊ मेदांता हॉस्पिटल में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के कहने पर छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल ने एक ऑक्सीजन का टैंक भिजवाया है. यूपी के कांग्रेस संगठन संयोजक ललन कुमार और उनके कार्यकर्ता लखनऊ के सभी अस्पतालों से संपर्क करके अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी की जानकारी ले रहे हैं. और उनकी मदद कर रहे है.
कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी. (फाइल फोटो)

लखनऊ : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के कहने पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ऑक्सीजन का एक टैंकर लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में भिजवाया. ऑक्सीजन पहुंचने के बारे में मेदांता हॉस्पिटल लखनऊ निर्देशक डॉ राकेश कुमार से फोन से संपर्क करने की कोशिश की गई. पर संपर्क नहीं हो पाया. दरअसल उत्तर प्रदेश कांग्रेस के संगठन के कार्यकर्ता लखनऊ के सभी हॉस्पिटलों से पूछ कर जानकारी जुटा रहे हैं कि उन्हें हॉस्पिटल में कितनी ऑक्सीजन की जरूरत है. अगर किसी अस्पताल को ऑक्सीजन की कमी है तो उसे कांग्रेस शासित राज्यों से ऑक्सीजन मंगवा कर दिया जा रहा है.

यूपी कांग्रेस के संगठन संयोजक ललन कुमार कहा कि हमारे संगठन कि इस मदद को किसी तरह की राजनीति से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए. कोरोना महामारी एक वैश्विक आपदा है. और इस आपदा से हमें मिलकर लड़ना होगा. ललन कुमार ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार से उम्मीद किया है कि पिछले साल प्रवासी श्रमिक और मजदूरों को उनके घर छोड़ने के लिए कांग्रेस पार्टी द्वारा भेजी गई बसों की तरह ऑक्सीजन के टैंकरों पर ओछी सियासत नहीं करेंगे. ललन कुमार ने आगे कहा कि उन्हें उम्मीद है कि राज्य सरकार ऑक्सीजन जैसी प्राण देने वाली वायु की कमी को दूर करने में रुकावट नहीं बनेगी.

कोरोना संक्रमण के डर से लखनऊ यूनिवर्सिटी बीएड प्रवेश परीक्षा स्थगित, फुल डिटेल्स

ललन कुमार ने आरोप लगाया कि यूपी में कोरोना संक्रमण फैलने से राज्य की स्थिति भयानक हो चुकी है. लेकिन राज्य सरकार इस हालत को मानने को तैयार नहीं है. सीएम योगी आदित्यनाथ रोज टीम 11 की बैठक में कहते हैं. उत्तर प्रदेश राज्य में अस्पतालों में बेड , दवा और ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है. पर राज्य में दवा और ऑक्सीजन के लिए जनता में मचे हाहाकार ने सीएम के दावों की पोल खोल दी है. ललन कुमार ने दावा किया कि राजधानी लखनऊ सहित पूरे सूबे के अधिकतर अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी है. और बार-बार मदद मांगने के बावजूद कोई सहायता नहीं मिल रहा है.

लखनऊ नगर निगम की जेब खाली, चिता जलाने को कम पड़ी लकड़ी तो शासन से मांगी मदद

लखनऊ नगर निगम की जेब खाली, चिता जलाने को कम पड़ी लकड़ी तो शासन से मांगी मदद

18 से 44 साल के लोगों का कोरोना वैक्सीन ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन आज शाम 4 बजे से शुरू

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें