कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का लखनऊ में ठिकाना, जानिए किनके बंगले में रहेंगी

Smart News Team, Last updated: Fri, 16th Jul 2021, 10:51 PM IST
  • कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी लखनऊ के तीन दिनों के दौरे पर पहुंची हैं. पहले दिन लखनऊ पहुंचते ही प्रियंका गांधी योगी सरकार के खिलाफ मौन व्रत पर बैठ गई थीं. अब पूरे दिन के बाद वह लखनऊ में प्रियंका गांधी शीला कौल के बंगले में रहेंगी.
प्रियंका गांधी वाड्रा ने मौन विरोध के साथ दो दिवसीय यूपी यात्रा शुरू की

लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने राज्य के अपने दो दिवसीय दौरे की शुरुआत महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने मौन विरोध के साथ की. प्रियंका का मौन व्रत उत्तर प्रदेश में हाल ही में हुए पंचायत चुनावों में व्यापक हिंसा और धांधली के आरोपों को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए था. अब पहले दिन की समाप्ति के बाद सभी की नजरें एक सवाल की तरफ हैं और वह ये है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का लखनऊ में ठिकाना क्या है और वह किनके बंगले में रहेंगी. 

बता दें कि प्रियंका गांधी शीला कौल के बंगले में रुकती हैं और आज भी एयरपोर्ट से निकलने के बाद वो जीपीओ पर मौन व्रत पर बैठने से पहले इसी बंगले पर गईं और कुछ देर रुकने के बाद निकली थीं. अब पार्टी कार्यालय में बैठकें खत्म होने के बाद प्रियंका रात में यहीं रुकेंगी.

जिस बंगले में प्रियंका गांधी वाड्रा रुकेंगी वह शीला कौल का बंगला गोखले मार्ग स्थित बंगला नम्बर 23-2 है. अब प्रियंका गांधी का लखनऊ आवास यही है. बता दें कि ने शीला कौल पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की भाभी और इन्दिरा गांधी की मामी हैं. शीला कौल पांच बार भारतीय संसद की सदस्य रह चुकी हैं और उन्होंने 1980-84 और 1991-95 तक केंद्रीय मंत्री के रूप में भी अपनी सेवाएं दी हैं. साल 1995-96 तक एक साल उन्होंने हिमाचल प्रदेश की राज्यपाल का पद भी संभाला है.

प्रियंका गांधी का मौन व्रत खत्म, 2022 के चुनाव पर कांग्रेस की बैठकों का दौर शुरू

 

कांग्रेस मुख्यालय लखनऊ में महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रदेश के पदाधिकारियों, जिला और शहर अध्यक्षों के साथ बैठक भी की. इससे पहले प्रियंका ने अपना मौन व्रत खोलते हुए योगी सरकार पर निशाना साधते हुए महिला पत्रकार से कहा था आप महिला हैं, आप जानती हैं कि यूपी में क्या हो रहा है, हम सबने देखा है कि यहाँ क्या हो रहा है उत्तर प्रदेश में महिलाएं असुरक्षित हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें