18 महीने बाद लखनऊ पहुंचकर कांग्रेस UP प्रभारी प्रियंका गांधी मौन व्रत पर बैठीं

Smart News Team, Last updated: Fri, 16th Jul 2021, 4:43 PM IST
  • कांग्रेस की यूपी प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी शुक्रवार को लखनऊ पहुंच गई हैं. प्रियंका गांधी के स्वागत में एयरपोर्ट से लेकर कांग्रेस दफ्तर तक कार्यकर्ताओं की भीड़ देखने को मिल रही है. कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी 18 महीने बाद लखनऊ आई हैं. इससे पहले वो दिसंबर, 2019 में आई थीं.
प्रियंका गांधी 16 जुलाई को चार दिनों के लिए लखनऊ प्रवास पर आई हैं.

लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी 16 जुलाई को तीन दिनों के लखनऊ प्रवास पर आई हैं. उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी 18 महीनों बाद लखनऊ आई हैं. इससे पहले वह लखनऊ दिसंबर 2019 में आई थीं. प्रियंका गांधी लखनऊ एयरपोर्ट से सीधा जीपीओ गांधी प्रतिमा पहुंचीं और वहां उन्होनें गांधी जी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की. 

गांधी प्रतिमा पर ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने योगी सरकार के खिलाफ मौन व्रत रखा दिया. प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने कोविड प्रोटोकॉल का हवाला देते हुए हटाने की कोशिश की. जिसके बाद प्रियंका गांधी ने उन्हें पर्ची दिखाई जिसपर लिखा था कि कोरोना तो पंचायत चुनाव के दौरान भी था. इसके बाद मौन व्रत को खत्म कर दिया गया.

प्रियंका ने कहा- असुविधा के लिए माफी लेकिन लोकतंत्र के चीरहरण के खिलाफ मौन व्रत रखा

प्रियंका गांधी ने मौन व्रत खत्म करके लोगों का धन्यवाद किया. इसी के साथ लोगों को हुई असुविधा के लिए क्षमा मांगी. प्रियंका गांधी ने कहा कि मौन व्रत इसलिए किया कि यूपी में संविधान नष्ट हो रहा है. लोकतंत्र का चीरहरण हो रहा है. प्रियंका गांधी ने मौन व्रत खत्म कर कहा कि पीएम मोदी ने योगी जी को प्रमाणतत्र दिया. यूपी में विकासवाद की बात पर कहा कि ये कैसा विकासवाद है. 

कांग्रेस महासचिव ने योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा. प्रियंका गांधी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर थी तब पंचायत चुनाव करवाए. ब्लॉक अध्यक्ष के चुनाव हुए तो हिंसा हुई. महिलाओं के वस्त्र खिंचे रहा थे. कहीं बम फूट रहे थे. गोली चल रही थी. इन सबके बावजूद सरकार क्या सोच रही है कि जनता चुप रहेगी, विपक्ष चुप रहेगा. प्रियंका गांधी ने कहा कि लोकतंत्र पर जो वार हो रहा है वो कोई नई बात नहीं है. यह पिछले तीन साल से चल रहा है. प्रियंका गांधी ने कहा कि हम लोकतंत्र बचाने आए हैं. जनता के पक्ष में बोलने आए हैं.

2022 चुनाव की रणनीति बनाने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज से 3 दिन लखनऊ में 

प्रियंका गांधी अपने लखनऊ प्रवास में यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर पार्टी की रणनीति तैयार करेंगी. 17, 18, 19 जुलाई को वह नेताओं और कार्यकर्ताओं से बात-मुलाकात करेंगी. प्रियंका कांग्रेस महासचिव हैं और यूपी की प्रभारी भी. वह नेताओं और कार्यकर्ताओं से मुलाकात करके इस चुनौती को सुलझाने की कोशिश करेंगी कि यूपी में कांग्रेस 2022 चुनाव कैसे जीतेगी.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी जब पिछली बार दिसंबर 2019 में लखनऊ आई थीं. तब सीएए को लेकर हंगामा हुआ था तो कई बड़े कांग्रेस नेताओं को हिरासत में लिया गया था. उसके बाद से प्रियंका गांधी का कार्यक्रम लखनऊ में नहीं हुआ है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें