जीते जी नहीं मिला सही इलाज, अब कब्रों से छीनी जा रही रामनामी: प्रियंका गांधी

Smart News Team, Last updated: Tue, 25th May 2021, 5:16 PM IST
  • यूपी में गंगा किनारे दफन शव से कफन हटाने वाले वीडियो को शेयर करते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि जीते जी ढंग से इलाज नहीं मिला और अब कब्रों से रामनामी छीनी जा रही है. सरकार का ये कौन-सा सफाई अभियान है.
प्रियंका गांधी ने ट्वीट करके गंगा किनारे दफन शवों से कपड़े हटाने पर सरकार को घेरा.

लखनऊ. कोरोना संक्रमण के बीच यूपी में गंगा किनारे दफन शव से कपड़े हटाने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सरकार को घेरा है. प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा कि जीते जी ढंग से इलाज नहीं मिला. कितनों को अंतिम संस्कार का सम्मान नहीं मिला. अब कब्रों से रामनामी भी छीनी जा रही है. आपको बता दें कि यूपी के प्रयागराज में प्रशासन ने कफन को हटवा दिया है.

इस पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि जीते जी ढंग से इलाज नहीं मिला. कितनों को सम्मान नहीं मिला. सरकारी आंकड़ों में जगह नहीं मिली. अब कब्रों से रामनामी भी छीनी जा रही है. उन्होंने कहा कि छवि चमकाने की चिंता में दुबली होती सरकार पाप करने पर उतारू है. ये कौन-सा सफाई अभियान है.

किसान आंदोलन को कल 6 माह पूरे, मायावती ने कहा- किसानों की समस्या का हल निकाले केंद्र सरकार

प्रियंका गांधी ने कहा कि ये अनादर है मृतक का, धर्म का और मानवता का. प्रियंका गांधी के शेयर किए गए वीडियो में दिखाई दे रहा है कि कुछ लोग गंगा किनोर दफन शव के कफन को हटा रहे हैं. मिली जानकारी के अनुसार, प्रयागराज के श्रृंगवेरपुर घाट पर रातों-रात जेसीबी और मजदूरों को लगाकर मैदान को साफ कर दिया गया है. प्रयागराज के एसपी ने कहा कि इसकी जांच की जाएगी और कार्रवाई होगी.

12 साल तक के बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए हर जिले में बनेगा स्पेशल बूथ- CM योगी

इससे पहले पंचायत चुनाव में शिक्षकों की मौत पर प्रियंका गांधी ने कहा कि पंचायत चुनाव ड्यूटी के दौरान 1 हजार 621 शिक्षकों की मौत सरकारी निष्ठुरता का शिकार न हो. उन्होंने ड्यूटी का कर्तव्य निभाया है. उन्होंने कहा अब यूपी सरकार लीपापोती न करके सभी मृतक शिक्षकों, कर्मियों के परिवार को 1 करोड़ रुपए मुआवजा और आश्रित नौकरी दे. ये उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें