कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते कांग्रेस ने स्थगित किए अपने बड़े कार्यक्रम

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Wed, 5th Jan 2022, 3:24 PM IST
  • कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए अपनी बड़ी रैलियों को स्थगित कर दिया है. हालांकि कांग्रेस की छोटे कार्यक्रम जारी रहेंगे.
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते कांग्रेस ने स्थगित किए अपने बड़े कार्यक्रम

लखनऊ (भाषा). उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए कांग्रेस ने अपनी आगामी सभी बड़ी रैलियों और कार्र्यक्रम को स्थगित कर दिया है. कांग्रेस के सभी कार्यक्रम रद्द करने की जनकारी मीडिया संयोजक ललन कुमार ने बुधवार को बताया. उन्होंने बताया कि यूपी में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए पार्टी ने फिलहाल अपने सभी बड़े कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं. हालांकि कांग्रेस के छोटे कार्य्रकम और सभाएं जारी रहेंगी. 

ललन कुमार ने बताया कि आजमगढ़ में आज तथा वाराणसी में बृहस्पतिवार को आयोजित होने वाली 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' मैराथन के कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है. इसके अलावा इसी हफ्ते गाजियाबाद और अलीगढ़ में होने वाली मैराथन को भी निरस्त कर दिया गया है.

UP चुनाव: राजा भैया ने जारी की 11 प्रत्याशियों की लिस्ट, जानिए किसको मिला टिकट

कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में निकट भविष्य में पार्टी की कई बड़ी रैलियां आयोजित होनी थीं लेकिन संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सुरक्षा के लिहाज से इन्हें फिलहाल स्थगित कर दिया गया है. आगे स्थिति ठीक होने पर इन्हें आयोजित किया जाएगा.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बृहस्पतिवार को होने वाला नोएडा का दौरा भी निरस्त कर दिया गया है. हालांकि इसके लिए कोई कारण नहीं बताया गया है लेकिन सूत्रों के मुताबिक खराब मौसम भी इसके कारणों में शामिल है. मैराथन और रैलियां स्थगित करने का कांग्रेस का यह फैसला मंगलवार को बरेली में पार्टी की मैराथन के दौरान मची भगदड़ में तीन लड़कियों के घायल होने के बाद आया है.

पार्टी ने चुनाव आयोग से मांग की थी कि वह राजनीतिक दलों को बड़ी रैलियां आयोजित करने के बजाए छोटी सभाएं जैसे नुक्कड़ सभा, चौपाल, वर्चुअल बैठक और घर-घर जाकर प्रचार करने के लिए प्रेरित करे. इसके अलावा चुनाव प्रक्रिया के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का हर हाल में पालन कराया जाए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें