कांग्रेस ने शुरू की मिशन 2022 की तैयारी, घोषणा पत्र और डिजिटल प्लान पर चर्चा

Smart News Team, Last updated: Wed, 16th Sep 2020, 8:04 AM IST
  • कांग्रेस ने चुनाव के डेेढ़ साल पहले ही चुनावी घोषणापत्र की तैयारियां शुरू कर दी हैं. इसके लिए पार्टी लोगों से मिलेगी. डिजिटल माध्यम से लोगों की राय लेगी और लिखित सुझाव भी मांगेगी. इसके बाद चुनावी घोषणापत्र तैयार होगा.
कांग्रेस ने शुरू की मिशन 2022 की तैयारी, घोषणा पत्र और डिजिटल प्लान पर चर्चा

लखनऊ. यूपी में विधानसभा चुनाव भले ही 2022 में हो लेकिन कांग्रेस पार्टी अब से ही ‘मिशन 2022’ पर लग गई है. पार्टी ने चुनाव के डेेढ़ साल पहले ही चुनावी घोषणापत्र की तैयारियां शुरू कर दी हैं. इसके लिए पार्टी लोगों से मिलेगी. डिजिटल माध्यम से लोगों की राय लेगी और लिखित सुझाव भी मांगेगी. इसके बाद चुनावी घोषणापत्र तैयार होगा. मंगलवार को कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए घोषणा पत्र समिति के साथ पहली बैठक की.

लखनऊ: UP में कारोबार करना होगा आसान, 55 तरह के लाइसेंस खत्म करने की तैयारी

इस बैठक में पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद ने घोषणा पत्र तैयार करने को लेकर एक खाका खींचा जिस पर प्रियंका गांधी ने सभी सदस्यों से राय मांगी. बैठक में लोकसभा चुनाव और छत्तीसगढ़ चुनाव के घोषणापत्र की भी चर्चा हुई. बैठक में तय किया गया कि विधानसभा चुनाव के लिए भी राय ली जाएगी. यह रायशुमारी जनअभियान से लेकर डिजिटल और सोशल मीडिया पर भी होगी. इसके लिए सभी सदस्यों ने प्रदेश में जनअभियान चलाने पर सहमति जताई. सोशल मीडिया और अन्य डिजिटल माध्यमों के जरिए भी सुझाव मांगे जाएंगे.

मुख्तार अंसारी के बेटों पर CM योगी ने कसा शिकंजा, 25 हजार के ईनामी अपराधी घोषित

इस क्रम में प्रदेश भर के बौद्धिक वर्ग और जन संगठनों से भी लिखित सलाह मांगी जाएगी. लोगों को शामिल करते हुए इसमें हर विधानसभा से आम लोगों से भी सुझाव और मुद्दे मांगे जाएंगे. इसके अलावा बैठक में यूपी की कानून व्यवस्था, किसानों के मुद्दे, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और बिगड़ते आर्थिक हालात पर भी गहन चर्चा हुई. बैठक में घोषणापत्र कमेटी के सदस्य सलमान खुर्शीद, राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया, विवेक बंसल, सुप्रिया श्रीनेत्र, अमिताभ दुबे के अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा मोना मौजूद रहीं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें