कोरोना वैक्सीन को लेकर कई सवालों से हैं परेशान तो यहां पढ़ें यूनिसेफ के जवाब

Smart News Team, Last updated: Mon, 28th Dec 2020, 9:51 AM IST
  • कोरोना वैक्सीन की घोषणा के बाद अब सवाल है कोविड की वैक्सीन किसे और कब मिलेगी इस तरह के कई सवालों के जवाब यूनिसेफ ने दिए हैं. 
यूनिसेफ ने दिए भारत में कब मिलेगी कोरोना वैक्सीन.

लखनऊ. भारत में कोरोना का टीका कब आएगा, किसे सबसे पहले दिया जाएगा और कैसे आम आदमी को मिलेगा. इसी के साथ एक और बड़ा सवाल लोगों में है कि कोरोना से ठीक हो चुके लोगों को ये वैक्सीन लगवानी चाहिए या नहीं. इसी के साथ क्या ये सभी लोगों को लगवानी जरूरी है या नहीं. भारत की आम जनता हर दिन इन सवालों से जूझ रही है. ऐसे में यूनिसेफ ने आगे बढ़कर लोगों के सवालों के जवाब दिए हैं.

आम जनता का सवाल है कि भारत में अन्य देशों के मुकाबले कोरोना की वैक्सीन कब आएगी. जिसका जवाब देते हुए यूनिसेफ ने बताया कि कई कोरोना के टीकों का टेस्ट जारी है जो अलग-अलग चरणों में है. इसी के साथ भारत सरकार जल्द ही कोविड महामारी से लड़ने के लिए टीका लांच कर सकती है. 

लोन पर है गाड़ी तो हाईवे पर रहें सावधान, बदमाश चकमा देकर लूट सकते हैं कार

वहीं लोगों को ये सवाल परेशान कर रहा है कि टीका हर किसी को मिलेगा भी या नहीं. यूनिसेफ ने इसका जवाब देते हुए कहा है कि टीकों की उपलब्धता के आधार पर भारत सरकार प्राथमिकता वाले समूहों को पहले वैक्सीन देगी क्योंकि उनपर खतरा अधिक है. इस समूह में स्वास्थ्यकर्मी, 50 साल से अधिक उम्र और अन्य लोगों को शामिल किया गया है. इसी के साथ 50 साल से कम में गंभीर बीमारियों से जूझ रहे लोगों को वैक्सीन दी जाएगी. 

खुशखबरी! अब यूपी के गांव में आसानी से लगेगी फैक्ट्री, ग्रामाणों को मिलेगा रोजगार

कोरोना की वैक्सीन हर किसी को लगवाना जरूरी है. इसका जवाब देते हुए यूनिसेफ ने कहा है कि नहीं यह हर किसी की इच्छा है कि वह टीका लगवाएं या नहीं लेकिन सलाह दी जाती है कि कोरोना से बचाव और इसके खात्मे के लिए पूरे परिवार को टीका लगवाएं. 

टेंशन फ्री होकर जाइए आगरा, अब हर रोज 15,000 यात्रियों तक होगी ताज महल में एंट्री

लोगों को वैक्सीन के सुरक्षित होने का सवाल भी परेशान कर रहा है. इसपर जवाब कि भारत में कोरोना के टीके को सुरक्षा और प्रभावकारिता के मानक पर परखने के बाद ही अनुमति दी जाएगी. इसी के साथ पॉजिटिव व्यक्ति को वैक्सीन लगाया जाएगी. इसपर यूनिसेफ ने कहा कि संक्रमित लोगों से केंद्र पर संक्रमण फैल सकता है इसलिए संक्रमित लोगों को लक्षण दिखने के 14 दिन तक टीका नहीं लगवाना चाहिए. 

UP के सरकार प्राप्त कॉलेजों में प्रोफेसर और असिस्टेंट प्रोफेसरों की भर्ती जल्द 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें