Covid-19 child vaccination: आज से 15-18 साल के बच्चों का होगा वैक्सीनेशन, होगी ये व्यवस्था

Shubham Bajpai, Last updated: Mon, 3rd Jan 2022, 8:12 AM IST
  • यूपी में आज से 15 से 18 साल आयुवर्ग के बच्चों का कोरोना का वैक्सीनेशन शुरू होने जा रहा है. इसके लिए प्रदेश में 1 जनवरी से वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया था, वैक्सीनेशन कैंप में भी इसके लिए अलग व्यवस्था की गई है. जानकारी अनुसार, प्रदेश में करीब 1 करोड से अधिक इस आयुवर्ग का वैक्सीनेशन होना है.
Covid-19 child vaccination: आज से 15-18 साल के बच्चों का होगा वैक्सीनेशन, होगी ये व्यवस्था (फाइल फोटो)

लखनऊ. देश और प्रदेश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन के खतरे के बीच एक राहत की खबर सामने आ रही है. 3 जनवरी (सोमवार) से प्रदेश में 15 से लेकर 18 साल के आयुवर्ग के बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू होने जा रहा है. इस वर्ग के लिए सरकार ने 1 जनवरी से रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिया था. साथ ही कैंप में भी इस वर्ग के लिए अलग व्यवस्था होगी ताकि जल्द से जल्द इस वर्ग को भी वैक्सीनेट किया जा सके.

साथ ही सरकार 6 साल से अधिक आयुवर्ग के लोग, हेल्थ वर्करों, फ्रंटलाइन वर्करों और चुनावी ड्यूटी में तैनात किए जाने कर्मचारियों के लिए 10 जनवरी से बूस्टर डोज की भी शुरुआत करने जा रही है.

अगर CM योगी मथुरा से लड़ेंगे चुनाव तो टक्कर देने को RLD अध्यक्ष जयंत चौधरी तैयार !

ये होंगे पात्र, यहां हो रहा रजिस्ट्रेशन

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि 15 से 18 साल के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन कैंप में व्यवस्था करने से लेकर उनका वैक्सीनेशन करवाने को लेकर सभी डीएम और सीएमओ को आवश्यक दिशानिर्देश जारी कर दिए गए हैं. वर्ष 2007 या उससे पहले जन्म लेने वाले बच्चे कोरोना के वैक्सीनेशन के लिए पात्र होंगे. इनके लिए कैंप में अलग लाइन भी लगवाई जाएंगी. 

कोरोना वैक्सीनेशन के लिए इन बच्चों को कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. जिसके बाद इनके स्लॉट के अनुसार इनका वैक्सीनेशन होगा. आंकड़ों के अनुसार, प्रदेश में 1 करोड़ 40 लाख 14 हजार बच्चों का वैक्सीनेशन होना है.

केजरीवाल का ऐलान - UP में AAP की सरकार बनी तो महिलाओं को हर महीने देंगे एक हजार

इनको मिलेगा प्रिकॉशन का डोज

10 जनवरी से शुरू होने जा रहे प्रिकॉशन डोज के लिए शासन ने हेल्थ केयर वर्करों, फ्रंट लाइन वर्करों और 60 साल या उससे अधिक उम्र वाले जो नागरिक गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं वो पात्र हैं. 

इन लोगों के लिए दिशानिर्देश जारी कर दिया गया है कि अपने डॉक्टर से सलाह लेने के बाद प्रिकॉशन डोज ले लें. इसकी दूसरी डोज 39 हफ्ते पूरे होने के बाद लगाई जाएगी. इनकी प्रदेश में संख्या 37 लाख 54 हजार 400 है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें