लखनऊ तक दिख सकता है चक्रवाती तूफान यास का असर, UP के 27 जिलों में जारी किया गया अलर्ट

Smart News Team, Last updated: Mon, 24th May 2021, 6:11 PM IST
चक्रवाती तूफान यास का असर राजधानी लखनऊ के साथ वाराणसी में भी देखा जा सकता है. तूफान को लेकर प्रदेश के 27 जिलों में 24 से 28 मई के बीच अलर्ट जारी किया गया है. इस दौरान यहां तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है. जिस क्षेत्र में हवा का दवाब कम होगा, वहां तेज बारिश भी हो सकती है.
चक्रवाती तूफान यास का असर लखनऊ में भी दिख सकता है.

लखनऊ. बंगाल की खाड़ी से उठने वाला चक्रवाती तूफान यास का असर राजधानी लखनऊ सहित वाराणसी और उसके आसपास के जिलों के साथ गोरखपुर और प्रयागराज में देख सकता है. गौरतलब है कि इसे लेकर मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश के 27 जिलों में 24 से 28 मई के बीच तूफान की चेतावनी दी है. इस संबंध में रविवार को जिले के लोगों को खुद भी अलर्ट रहने को कहा गया. साथ ही डीएम ने जरूरी तैयारियां करने का निर्देश दिया है.

आपको बता दें कि मौसम विभाग ने संबंधित जिलों के डीएम और राहत आयुक्त को अलर्ट किया है. इसके अलावा इन जिलों के लोगों को भी मौसम पर निगाह रखने और खुद को सुरक्षित स्थान पर रखने की सलाह दी गई है. मौसम विभाग की ओर से मुरादाबाद, बिजनौर, अमरोहा, संभल, बदायूं, कासगंज, बहराइच, बाराबंकी, गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, अयोध्या, अमेठी, सुल्तानपुर, जौनपुर, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, संत कबीर नगर, महराजगंज और कुशीनगर को अलर्ट जारी किया गया है.

ब्लैक और व्हाइट के बाद UP में अब मिला येलो फंगस, एक मरीज में तीनों के लक्षण

इसके अलावा चक्रवाती तूफान यास का असर 28 मई से पहले बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में दिखेगा. मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि इसका असर वाराणसी और आसपास के जिलों के साथ ही गोरखपुर, प्रयागराज और लखनऊ तक दिख सकता है. जैस-जैसे यह पश्चिम की ओर बढ़ेगा इसका असर कम होता जाएगा. बीएचयू के पूर्व प्रोफेसर और मौसम वैज्ञानिक डॉ. एसएन पांडेय ने बताया कि इस दौरान तेज हवा के साथ बारिश हो सकती है. जिस क्षेत्र में हवा का दवाब कम होगा, वहां तेज बारिश भी हो सकती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें