दिल्ली से अयोध्या तक 320 किमी की रफ्तार से दौड़ेगी बुलेट ट्रेन, 2030 तक पूरी होगी परियोजना

Smart News Team, Last updated: Sun, 22nd Aug 2021, 5:55 PM IST
  • अब वो दिन दूर नहीं जब देश में 320 किमी की रफ्तार से बुलेट ट्रेन चलेगी क्योंकि सरकार ने 2030 तक बुलेट ट्रेन परियोजना पूरा करने का मन बना लिया है.
दिल्ली से अयोध्या तक 320 किमी की रफ्तार से दौड़ेगी बुलेट ट्रेन, 2030 तक पूरी होगी परियोजना

लखनऊ: आने वाले दिनों में दिल्ली-वाराणसी बुलेट ट्रेन से 320 किलोमीटर की रफ्तार में राम नगरी अयोध्या तक का सफर कर सकेंगें. 'नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (NHSRCL)' ने अयोध्या में बुलेट ट्रेन के लिए जमीन भी लगभग फाइनल कर ली है. जल्द ही इसकी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार होगी. सरकार की योजना है कि अयोध्या को विश्व पटल पर धार्मिक नगरी और विश्व स्तरीय पर्यटन सिटी के रूप में विकसित किया जाए. बुलेट ट्रेन परियोजना पर तेजी से हो रहे काम से अनुमान लगाया जा रहा है कि सरकार का सपना जल्द ही साकार हो सकेगा. 

NHSRCL ने देखी जमीन

NHSRCL की टेक्निकल टीम ने बुलेट ट्रेन के लिए अयोध्या पहुंचकर जमीन देख ली है. भूमि का भौतिक सत्यापन करने के साथ ही जरूरी सर्वे भी किया गया है. लिंक सेवा के तहत लखनऊ से अयोध्या के बीच 130 किमी पटरियां बिछायी जाएगी. टीम ने अयोध्या विकास प्राधिकरण के साथ बैठक कर पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के जरिए योजना की पूरी जानकारी दी.

कल्याण सिंह के निधन पर UP में 3 दिन का शोक, 23 अगस्त को सार्वजनिक अवकाश

अयोध्या में बुलेट ट्रेन स्टेशन बनेगा एयरपोर्ट के पास

NHSRCL ने बताया कि श्री राम इंटरनेशनल एयरपोर्ट के आसपास बुलेट ट्रेन स्टेशन के लिए जमीन देखी गई है. साथ हीं ये भी सुनने में आया कि एयरपोर्ट अथॉरिटी से एनओसी लेने की कवायद भी चल रही है. इससे विदेशी यात्री हवाई जहाज के जरिए सीधे अयोध्या आ सकेंगे और उसके बाद बुलेट ट्रेन से दिल्ली जा सकेंगे. इसके आलावा नोएडा में बनने वाले बुलेट ट्रेन स्टेशन को भी नोएडा के जेवर एयरपोर्ट से जोड़ने का प्लान है. ताकि यात्री अयोध्या आसानी से पहुच सके.

अयोध्या बनेगी वर्ल्ड क्लास टूरिस्ट सिटी

केंद्र और राज्य सरकार के सहयोग आस्था नगरी अयोध्या को वर्ल्ड क्लास टूरिस्ट सिटी बनाने की कवायद हो रही है. एक तरफ भगवान राम के नाम पर श्री राम इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए भूमि अधिग्रहण तो दूसरी तरफ  रिंग रोड और 84 कोसी परिक्रमा मार्ग का काम अंतिम दौर में है  है. इसके साथ हीं सरयू नदी में क्रूज और सी प्लेन उड़ाने की योजना भी है. बेहतर कनेक्टिविटी के लिए सड़कों का चौड़ीकरण भी हो रहा है. इसके अलावा और तमाम योजनाओं पर काम तेजी से चल रहा है.

EPFO प्रोविजनल पेरोल डाटा जारी, जून में जुड़े रिकॉर्ड 12 लाख ग्राहक

रेल मंत्रालय को NHSCRL जल्द सौंपेंगी DPR

दिल्ली से वाराणसी तक प्रस्तावित बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का पूरा खाका NHSCRL' रेल मंत्रालय को सौपेंगी. इस प्रोजेक्ट के तहत अयोध्या को भी कनेक्ट किया जाएगा. रेल मंत्रालय से डीपीआर को मंजूरी मिलने के बाद बुलेट ट्रेन का सपना साकार होने के लिए आकार लेने लगेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें