नए साल पर शराब पीकर उत्पात मचाना पड़ेगा महंगा, होगी जेल, चप्पे-चप्पे पर पुलिस रहेगी तैनात

Smart News Team, Last updated: Thu, 31st Dec 2020, 7:22 AM IST
  • नए साल के जश्न पर शराब पीकर उत्पात मचाने वालों के खिलाफ पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी. ऐसे लोगों को अरेस्ट कर जेल भेजा जाएगा. सादे कपड़ों में महिला और पुलिसकर्मी शहर में विभिन्न आयोजन स्थलों पर तैनात रहेंगे.
शराब पीकर उत्पात मचाने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी.

लखनऊ. नए साल के जश्न पर शराब पीकर उत्पात मचाना पड़ेगा महंगा. ऐसे लोगों को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज देगी. नए साल के मौके पर लोगों की सुरक्षा के लिए और शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स की तैनाती की जाएगी. सादे कपड़ों में महिला और पुलिसकर्मी शहर में विभिन्न आयोजन स्थलों पर तैनात रहेंगे.

पुलिस की विशेष नजर शराब पीकर उत्पात मचाने वालों पर रहेगी. लखनऊ में पुलिस 31 दिसंबर की शाम से सख्त हो जाएगी, जो अगले दिन तक जारी रहेगा. पुलिस ने बताया कि सार्वजनिक स्थल पर शराब पीकर उत्पात मचाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

लखनऊ: नए साल 2021 पर घरों में जश्न मानने के लिए पुलिस की अनुमति की जरूरत नहीं

रात 12 बजे के बाद सार्वजिनक जगहों पर आयोजन की अनुमति नहीं होगी. अगर आयोजक विशेष अनुमति लिया है तो वह रात एक बजे तक ही आयोजन कर सकता है. पुलिस ने गाइडलाइन जारी कर कहा है कि किसी को भी जुलूस निकालने की अनुमित नहीं होगी. नए साल के अवसर पर सार्वजनिक जगहों पर होने वाले कार्यक्रमों में 100 से अधिक लोग नहीं शामिल हो सकेंगे. कार्यक्रम आयोजकों कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों की पूरी जानकारी पुलिस को देनी होगी.

अवैध बिल्डिंग तोड़ने का खर्च मालिक से वसूला जाएगा, LDA कर रहा तैयारी

नए साल के अवसर पर प्रशासन द्वारा शहर में कई जगहों पर रोड डायवर्जन रहेगा. कैसरबाग, हनुमान सेतु पुल से आने वाले गाड़ियों को परिवर्तन चौक से हिंदी संस्थान तिराहे के रास्ते मेफेयर की ओर कर दिया गया है. लालबाग से नावेल्टी सिनेमा के रास्ते वाल्मीकि तिराहे से दाहिन की ओर कर दिया गया है. लालबाग चौराहे से मेफेयर और एलआइसी बिल्डिंग तिराहे की ओर कर दिया गया है. महानगर की ओर से आने वाली रोडवेज, सिटी बस सिकंदरबाग से हजरतगंज चौराहे की ओर. फैजाबाद रोड से कैसरबाग बस अड्डा आने-जाने वाले रोडवेज बस सिकंदरबाग से हजरतगंज की ओर नहीं जा सकेंगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें