एयरपोर्ट में नौकरी के नाम पर युवकों से 1.08 लाख रुपये की ठगी

Smart News Team, Last updated: 20/01/2021 12:15 PM IST
  • राजधानी में जालसाज रोजाना नए-नए तरीके से लोगों को ठगी का शिकार बना रहे हैं। कभी लॉटरी तो कभी कुरियर सर्विस जैसे बहानाें के माध्यम से लोगों को चूना लगा रहे हैं। ताजा मामला एयरपोर्ट में नौकरी के नाम पर ठगी किए जाने का आया है। पीड़ित ने पांच जालसाजों के खिलाफ आलमबाग कोतवाली रिपोर्ट दर्ज करवाई है।
फाइल फोटो

लखनऊ : दिल्ली एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया में नौकरी दिलवाने के नाम पर जालसाजों ने दो युवकों से 1.08 लाख रुपये ठग लिए। पुलिस के सुनवाई न करने पर पीड़ितों ने कोर्ट का सहारा लिया। अब कोर्ट के आदेश पर आलमबाग पुलिस ने पांच जालसाजों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

गुपचुप बेच दिए अवध विहार में बसेरा योजना के फ्लैट, जांच के आदेश

आलमबाग के गढ़ी कनौरा स्थित श्रम विहार नगर में रहने वाली लज्जा देवी ने बताया कि उनका बेटा संजय बेंगलुरु में नौकरी कर रहा है। 30 नवंबर 2019 को संजय के मोबाइल पर एक अनजान नंबर से मेसेज आया कि दिल्ली एयरपोर्ट में 284 लोगों की डेटा फीडिंग व कंप्यूटर ऑपरेटर की नौकरी निकली है। संजय ने मेसेज भेजने वाले को कॉल की तो उसने बताया कि 2500 रुपये आवेदन शुल्क और 25 हजार रुपये तीन माह की ट्रेनिंग के लिए बतौर जमानत जमा करने होंगे। नौकरी मिलने पर वेतन 38,500 रुपये होगा। जाल में फंसे संजय और उसके दोस्त सरवन ने अकाउंट नंबर मांगा तो जालसाज ने प्राधिकरण के एचआर एक्जीक्यूटिव अनिल मल्होत्रा बन अपनी आईडी व खाता नंबर भेजा। संजय ने कई बार में खाते में 72,500 रुपये जमा किए। फिर जालसाजों ने कहा कि आपको एक गिफ्ट भेजा जाएगा। गिफ्ट में लैपटॉप या अन्य कोई सामान होगा। गिफ्ट पैक भेजने के लिए आपको 20 हजार रुपये जमा करने होंगे, जिसके बाद कोरियर पहुंचेगा। इस पर सरवन ने करीब 35 हजार रुपये ट्रांसफर किए, लेकिन उन्हें गिफ्ट नहीं मिला। इसके बाद जालसाजों ने पीड़ितों से और रुपये की मांग की। रुपये की मांग बढ़ने पर पीड़ितों को शक हुआ तो उन्होंने आलमबाग पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। इस पर संजय की मां लज्जा देवी ने कोर्ट की शरण ली। अब कोर्ट के आदेश पर आलमबाग पुलिस ने जालसाज अनिल मल्होत्रा, गुरप्रीत सिंह, अभिषेक, रोहित और शिवम अग्रहरि के खिलाफ सोमवार की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें