लखनऊ: गाड़ी ओवरटेक को लेकर जिला पंचायत सदस्य के 2 प्रत्याशियों के बीच हुई मारपीट

Smart News Team, Last updated: Sun, 4th Apr 2021, 8:18 PM IST
लखनऊ में नगराम के कमालपुर बिचलिका गांव के पास वार्ड नंबर 21 से चुनाव लड़ रहे दो जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशियों के बीच गाड़ी ओवरटेक को लेकर मारपीट हो गई. पुलिस ने इस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार कर शांतिभंग की कार्रवाई के बाद मुचलके पर रिहा कर दिया.
चुनाव प्रचार की गाड़ी को लेकर नगराम के कमालपुर बिचलिका गांव के पास दो प्रत्याशियों के बीच मारपीट हो गई.

लखनऊ. नगराम के कमालपुर बिचलिका गांव के पास वार्ड नंबर 21 से चुनाव लड़ रहे दो जिला पंचायत सदस्य के प्रत्याशियों के बीच मारपीट हो गई. दरअसल, चुनाव प्रचार के दौरान गाड़ी ओवर टेक को लेकर एक पक्ष के प्रत्याशी ने समर्थकों के साथ दूसरे प्रत्याशी और उसके चालक के साथ मारपीट शुरू कर दी. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनो पक्षों के बीच मामले को शांत कराया.

इस मामले में एक पक्ष की तहरीर पर आरोपी प्रत्याशी, उसके भाई और समर्थकों खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दोनों प्रत्याशियों सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया. इस संबंध में पुलिस ने शान्ति भंग की कार्रवाई के बाद सभी को मुचलके पर रिहा कर दिया गया. इंस्पेक्टर मोहम्मद अशरफ ने बताया कि मोहनलालगंज के वार्ड नंबर 21 से मोहनलालगंज के कूढा गांव निवासी धर्मेन्द्र साहू उर्फ मुन्नू और इसी गांव के निवर्तमान प्रधान रवीन्द्र यादव इसी वार्ड से जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी हैं. रविवार को दोनों इनोवा गाड़ी से अपने समर्थकों के साथ चुनाव प्रचार के बाद कमालपुर बिचलिका के बाहरी रास्ते से घर वापस लौट रहे थे.

यूपी के 15 शहरों में योगी सरकार खोलेगी ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट

धर्मेन्द्र साहू का कहना है कि वह चालक अरविंद यादव और साथी दीपक यादव, अवंतिका मिश्रा और नवनीत कुमार के साथ चुनाव प्रचार समाप्त कर लौट रहा था. रास्ते में कमाल पुर बिचलिका और पतौना गांव के बीच रास्ते में बिल्ली ने रास्ता काट दिया जिससे चालक अरविंद यादव ने गाड़ी रोक दी. इस बीच प्रत्याशी रावेन्द्र यादव का भाई अजीत गाड़ी को ओवर टेक कर आगे निकल गया और आगे कुछ दूर जाने पर उसने मारपीट की.

UP सरकार का कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर बड़ा प्लान, ऐसे घर-घर पहुंचाया जाएगा टीका

इंस्पेक्टर के बताया कि धर्मेन्द्र साहू की तहरीर पर रावेन्द्र यादव, चालक अजीत, राम बाबू यादव , मुकेश यादव, बउवा सहित पांच लोगों के खिलाफ मारपीट बलवा जान से मारने की धमकी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर रावेन्द्र यादव, अजीत और दूसरे पक्ष के धर्मेन्द्र साहू और दीपक यादव को गिरफ्तार कर शांतिभंग की कार्रवाई कर निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें