आजम खान से ED ने की पूछताछ, मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद से भी होगी कस्टोडियल पूछताछ

Somya Sri, Last updated: Mon, 20th Sep 2021, 5:04 PM IST
  • उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिला के कारागार में बंद समाजवादी पार्टी सांसद आजम खान से ईडी की 2 सदस्यीय टीम ने आज पूछताछ की. आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा ने कहा कि असलियत देखनी है तो जेल में आजम खान से मिल कर देखिए. ईडी मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद से भी कस्टोडियल पूछताछ करेगी.
समाजवादी पार्टी सांसद आजम खान (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जेलों में बंद समाजवादी पार्टी सांसद आजम खान, मुख्तार अंसारी और बाहुबली नेता अतीक अहमद पर ईडी की गाज गिर रही है. प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी की 2 सदस्यीय टीम ने आज आजम खान से सीतापुर जिला के कारागार में पूछताछ की. आजम खान सीतापुर जिला के इसी कारागार में धन शोधन मामले में बंद हैं. इस दौरान आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा भी सीतापुर जिला कारागार पहुंची. जहां उन्होंने मीडिया पर दुष्प्रचार करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि असलियत देखनी है तो जेल में आजम खान से मिल कर देखिए. बता दें कि इसके अलावा प्रवर्तन निदेशालय मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद से भी कस्टोडियल पूछताछ करेगी.

बता दें कि समाजवादी नेता आजम खान पर किसानों की जमीन हड़पने का आरोप है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आजम खान ने जबरन किसानों की जमीन ले ली थी. रिपोर्ट्स की मानें तो आजम खान की ड्रीम प्रोजेक्ट जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जिन जमीनों को अधिकृत किया गया था. उनमें भी कई जमीनें सरकारी हैं. इसी मामले पर ईडी आजम खान से पूछताछ कर सकती है.

यूपीकॉप एप महिलाओं को बताएगी कौन से इलाके है असुरक्षित, अपराध वाली जगहों की भी मिलेगी जानकारी

वहीं बसपा विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ ईडी ने 1 जुलाई को मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मुख्तार अंसारी पर एक सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा जमाने का आरोप है. रिपोर्ट की मानें तो मुख्तार अंसारी ने इस जमीन को एक निजी कंपनी को किराए पर दिया था. प्रति वर्ष के हिसाब से 1.7 करोड़ रुपए करीब 7 सालों के लिए किराए पर दिया गया था. जमीन और पैसे को लेकर ईडी आजम खान से पूछताछ कर सकती है.

वहीं अतीक अहमद पर आरोप है कि उन्होंने पिछले साल कुल 16 कंपनियां चिन्हित की थी जो कई बेनामी थी. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो इन कंपनियों में नाम तो किसी और का है. लेकिन पैसा अतिक का लगा हुआ है. रिपोर्ट्स के मुताबिक इनमें ज्यादातर कंपनियों का कारोबार रियल स्टेट से संबंधित है और इनका लेनदेन करोड़ों में है. अतीक अहमद पर ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग का मुकदमा दर्ज किया था. जिसे लेकर ईडी पूछताछ कर सकती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें